अपनी पर्सनल लाइफ की वजह से हमेशा सुर्खियों में रहे देवानंद…

देवानंद हिंदी फिल्मों ऐसे पहले सुपरस्टार थे जिन्होंने दर्शकों को मोहब्बत की संजीदगी और रूमानियत सिखाई। 26 सितंबर 1923 को

Read more

दिलीप कुमार : एक महानायक की गाथा

फिल्म मेला, शहीद, अंदाज, आन, देवदास, नया दौर, मधुमती, यहूदी, पैगाम, मुगल-ए-आ़जम, गंगा-जमुना, लीडर तथा राम और श्याम जैसी फिल्मों

Read more

देव आनंद और मारियो मिरांडा वैश्विक व्यक्तित्व थे

एक सप्ताह के भीतर भारत के दो बड़े कलाकारों देव आनंद और मारियो मिरांडा का निधन हो गया. दोनों अपने-अपने क्षेत्र के महारथी थे. दोनों का अपना रास्ता था, दोनों को लोगों का बहुत प्यार मिला और दोनों अद्वितीय प्रतिभा वाले थे. दोनों ने पचास के दशक में भरपूर नाम कमाया और लोगों का मनोरंजन किया. मुझे याद है, जब मैं बारह साल का था तो मैंने देव आनंद की फिल्म बाजी देखी थी.

Read more

पुरानी फिल्‍मों का रंगीन दौर

भारतीय सिनेमा आज इतनी तरक़्क़ी कर रहा है कि इसका डंका पूरी दुनिया में बज रहा है. यह सच है कि फिल्में समाज के हालात को मद्देनज़र रखकर ही बनाई जाती हैं. फिल्म निर्माता भी सरकार की तरह जनता की पसंद-नापसंद को ध्यान में रखकर ही फिल्में बनाते हैं.

Read more