अखिलेशवादी सपा ने मुलायम को दूध की मक्खी बनाने का नतीजा भुगत लिया, बौखलाई पार्टी का बेचैन अभियान

अखिलेश यादव के नेतृत्व वाली समाजवादी पार्टी में चुनाव हारने की बौखलाहट के साथ-साथ पार्टी बचाने की बेचैनी भी है.

Read more

राजनीति में उतर सकते हैं प्रतीक, चुनाव बाद होगा तय  

मुलायम सिंह यादव की पत्नी साधना ने प्रतीक के राजनीति में आने की बात पर सहमति जता दी है. अब

Read more

अमर सिंह को लेकर डिम्पल यादव ने किया चौंकाने वाला खुलासा, जानिए क्या है पूरा मामला

नई दिल्ली, (विनीत सिंह) : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी डिम्पल यादव ने सस्माज्वादी पार्टी से निकाले

Read more

प्रियंका-डिंपल की नजदीकी ने कराया सपा-कांग्रेस में गठबंधन

सीटों को लेकर पेंच फंसने के बाद लग रहा था कि अब समाजवादी पार्टी और कांग्रेस का गठबंधन नहीं होगा.

Read more

प्रशांत किशोर का मास्टर प्लान, डिंपल और प्रियंका को एक मंच पर लाने की तैयारी

नई दिल्ली (ब्यूरो, चौथी दुनिया):  उत्तर प्रदेश में सपा की दरार से प्रशांत किशोर की रणनीति को एक नया रास्ता

Read more

चुनाव आया तो विकास में सहयोग के लिए अखिलेश ने लिखा सांसदों को पत्र : चतुर चिंता की चिट्ठी

उत्तर प्रदेश में जब विधानसभा चुनाव सामने है तब मुख्यमंत्री अखिलेश यादव में विकास के प्रति अतिरिक्त चिंता जाग्रत होने

Read more

उत्तराखंड में तेज हो रही सियासी जोर आजमाइश : सपा भी बांध रही मंसूबे

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक दलों ने  जोर-आजमाइश करनी शुरू कर दी है. समाजवादी पार्टी ने भी उत्तराखंड

Read more

उत्तराखंड में दो की लड़ाई में तीसरे को फायदा वाला फार्मूला फिट कर रही सपा : पहाड़ पर भी सत्ता की आशा

उत्तराखंड में राजनीतिक उठापटक के बीच समाजवादी पार्टी दो की लड़ाई में तीसरे को फायदा का फार्मूला फिट कर रही

Read more

आखिर कौन कर रहा है नफरत की खेती

उत्तर प्रदेश में जिस तेजी से सांप्रदायिक तनाव बढ़ रहा है, उसी तेजी से राजनीतिक टकराव भी बढ़ रहा है.

Read more

सितारे नहीं, इस चुनाव के महानायक हैं नरेंद्र मोदी

फिल्म कलाकारों और खिलाड़ियों के स्टार पॉवर को भुनाने के लिए पार्टियां उन्हें टिकटदेती रही हैं, ये स्टार भी अपनी

Read more

अपना गढ़ भी नहीं बचा सकी सपा

हाल ही में हुए पंचायत चुनाव में सपा को अपने ही ग़ढ में अपनों से ही शिकस्त मिली है. जहां पूर्व चुनावों में पार्टी ने तीन फीसदी से अधिक सीटों पर ज़िला पंचायत अध्यक्ष का परचम लहराया था. वहीं अब पार्टी थोड़ी सी सीटों पर काबिज़ होकर रह गई है.

Read more