धोबी घाट, सप्ताह भर की, खबरों के पीछे की, खबर

संघ, कांग्रेस और धन्यवाद महाराष्ट्र के चंद्रपुर में चंद्रपुर शहर युवक कांग्रेस के अध्यक्ष ने शहर के बीच एक बड़ा

Read more

आंकड़ों की बाज़ीगरी : सरकार को फायदा पहुंचा सकती है अर्थव्यवस्था को नहीं

पिछले दिनों भाजपा के राज्य सभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने अहमदाबाद में चार्टर्ड अकाउंटेंटस के एक कार्यक्रम को संबोधित करते

Read more

जीडीपी के लिए राहुल गांधी की नई परिभाषा, कहा- ‘ग्रॉस डिविसिव पॉलिटिक्स’

इस वित्त वर्ष में जीडीपी ग्रोथ के 6.5 फीसदी रहने के अनुमान पर राहुल गांधी ने कटाक्ष किया है. एक

Read more

मजदूरों का सप्लायर क्यों बन गया उत्तर प्रदेश!

  शिवाजी राय भारत में पुर्तगाली, फ्रांसीसी और अंग्रेजों ने जिन व्यापार केंद्रों को स्थापित किया था, आज भी लगभग

Read more

ग्लोबल रेटिंग एजेंसियों की क्रेडिट की कहानी

पिछले महीने अमेरिकी क्रेडिट रेटिंग एजेंसी मूडीज इन्वेस्टर सर्विस ने 13 साल बाद भारत की सॉवरन क्रेडिट रेटिंग बीएए 3

Read more

समस्या से बयान पैदा होता है बयान से कोई समस्या नहीं है

देश की आर्थिक स्थिति चिंताजनक है. इसके दो-तीन मूल कारण हैं. एक तो अब ये सर्वविदित हो गया है कि

Read more

अपनी दवा के बारे में जानना क्यों जरूरी है

किसी चीज को जानना मनुष्य का स्वभाविक गुण है. अमूमन वो अपने आस-पास होने-वाली हलचलों के कारणों को जानना चाहता

Read more

स्वास्थ्य नीति-2015 : क्या सुधर पाएगी बदहाल स्वास्थ्य सेवा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले साल 27 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र की जनरल असेंबली को संबोधित करते हुए कहा था

Read more

सुशासन का सच या फरेब

बिहार के चौक-चौराहों पर लगे सरकारी होर्डिंग में जिस तरह सुशासन का प्रचार किया जाता है, वह एनडीए सरकार की शाइनिंग इंडिया की याद दिलाता है. बिहार से निकलने वाले अ़खबार जिस तरह सुशासन की खबरों से पटे रहते हैं, उसे देखकर आज अगर गोएबल्स (हिटलर के एक मंत्री, जो प्रचार का काम संभालते थे) भी ज़िंदा होते तो एकबारगी शरमा जाते. ऐसा लिखने के पीछे तर्क है.

Read more

इस बदहाली के लिए ज़िम्मेदार कौन है

आप जब इन लाइनों को पढ़ रहे होंगे तो मैं नहीं कह सकता कि रुपये की अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में या डॉलर के मुक़ाबले क़ीमत क्या होगी. रुपया लगातार गिरता जा रहा है. अंतरराष्ट्रीय रेटिंग एजेंसियों ने न केवल बैंकों की, बल्कि सभी वित्तीय संस्थाओं की रेटिंग घटा दी है. कुछ एजेंसियों ने तो हमारे देश की ही रेटिंग घटा दी है.

Read more

गांव की मिट्टी और देश का गौरव

हाल में दीपिका कुमारी ने तीरंदाज़ी विश्वकप में स्वर्ण पदक जीता. वह भी लंदन ओलंपिक खेलों के आयोजन के कुछ महीने पहले. देशवासी दीपिका से ओलंपिक मेडल की आस लगाने लगे हैं. आस लगाने वालों में हमारी सरकार भी शामिल है. खिलाड़ी पदक जीतते ही देश के लाल हो जाते हैं, सरकार कुछ दिन तक खिलाड़ियों का गुणगान करती है.

Read more