बंद मिलें और जनप्रतिनिधियों की चुप्पी

समस्तीपुर बिहार का प्रमुख ज़िला है. यहां पूर्व मध्य रेलवे का मंडलीय कार्यालय है, उत्तर बिहार का इकलौता राजेंद्र कृषि विश्वविद्यालय है. फिर भी यह जिला औद्योगिक क्षेत्र में पिछड़ा है. प्राकृतिक संसाधनों की उपलब्धता के बावजूद यहां उद्योग पनप नहीं पा रहे हैं.

Read more

रायबरेली-अमेठी-सुल्तानपुर में कांग्रेस जीतेगी या हारेगी

आज़ादी से पहले तक जिस उत्तर प्रदेश को हिंदुस्तान का ताज होने का गौरव प्राप्त था, वही आज देश का सबसे पिछड़ा राज्य बन गया है. देश को कई प्रधानमंत्री और क़द्दावर हस्तियां देने वाले उत्तर प्रदेश की दुर्दशा देखकर यह सोचना भी कठिन हो जाता है कि यह राज्य अपनी इस हालत से कैसे छुटकारा पाएगा.

Read more

क्या हम स्वतंत्रता के लायक़ हैं?

गणतंत्र दिवस और महात्मा गांधी की पुण्यतिथि दोनों एक ही महीने में आते हैं. दोनों के बीच के निचोड़ को किस तौर देखा जाए. पाखंड और अतिश्योक्ति से मुक्ति के लिए किए गए कामों की सुरक्षा की जानी चाहिए या उन्हें केवल दस्तावेज़ों में रखा जाना चाहिए. हमने अहिंसा के नैतिक गुण को अपना लिया है, लेकिन जयपुर में हिंसा होने के डर के कारण जो हुआ, उससे तो यही लगता है कि यह सब कहने की बात है.

Read more