सुप्रीम कोर्ट जज प्रकरण : जज ही जब न्याय मांगें तो जनता को कहां मिलेगा न्याय

भारतीय इतिहास में जब पहली बार सुप्रीम कोर्ट के चार जजों (जस्टिस जे चेलमेश्वर, जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस मदन बी

Read more

भाई-भतीजे को जज बनाने वाली लिस्ट आखिरकार खारिज हुई : आईन के घर को आइना

इलाहाबाद हाईकोर्ट के निवर्तमान मुख्य न्यायाधीश डीवाई चंद्रचूड़ ने जजों की नियुक्ति के लिए वकीलों की जो लिस्ट सुप्रीम कोर्ट

Read more

भ्रष्टाचार की जांच ठेंगे पर आरोपी ने धमकाया तो क्लीन चिट दे दी

शीर्ष अफसर के आदेश की भी यूपी में ऐसी-तैसी, भ्रष्टाचार की जांच ठेंगे पर आरोपी ने धमकाया तो क्लीन चिट दे

Read more

न्यायपालिका की आज़ादी से ज़्यादा जवाबदेही के ज़रूरत है

क्या इस देश में गरीबों को अदालत से न्याय मिलना आसान है? इसका साधारण और सीधा जवाब है, नहीं. वजह

Read more

जवाबदेही का इन हाउस सिस्टम जरूरी है

आज भारत की न्यायपालिका को किन बीमारियों ने जकड़ रखा है, यह एक कठिन विषय है. सीधे-सीधे इसका जवाब हां या ना में देना संभव नहीं है. आज ज़रूरत है सच्चाई से रूबरू होने और उसका सामना करने की. न्यायपालिका का ट्रैक रिकॉर्ड या इतिहास आज़ादी के बाद से आज तक बहुत ही गौरवशाली है.

Read more

बीते साल के न्यायिक फै़सले : कुछ अच्छे तो कुछ बुरे भी

अगर न्यायिक इतिहास की दृष्टि से देखें तो बीते साल 2009 को हम मील के पत्थर के तौर पर याद कर सकते हैं. विगत वर्ष की कुछ न्यायिक प्रगतियों और फैसलों की बात करें तो आने वाले वर्षों में वे न्यायपालिका की दिशा को तय करेंगे. न्यायिक संस्थाओं का अगर एक ओर सम्मान बढ़ा तो दूसरी ओर कुछ ऐसी बातें भी हुईं, जिसने आम आदमी की नज़रों में न्यायपालिका की छवि और प्रतिष्ठा को धूमिल करने का काम किया.

Read more