टेरर फंडिंग मामले में अलगाववादियों को नहीं मिल रहे हैं वकील

नई दिल्ली: कश्मीर में लगातार हो रही हिंसा और पत्थरबाजों और आतंकियों को फंडिंग करने के मामले में राष्ट्रीय जांच

Read more

मुख्यमंत्री (पू.) का सुसाइड नोट : उपराष्ट्रपति ने अपने कर्तव्य का पालन नहीं किया- क्यों?

माननीय उपराष्ट्रपति जी ने अपने संवैधानिक और नैतिक कर्तव्य का पालन नहीं किया. क्यों नहीं किया, ये सवाल हम उपराष्ट्रपति

Read more

राजनीतिक तंत्र को ज़िम्मेदार बनाने की ज़रूरत है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री नहीं हैं, न ही वे आरएसएस के प्रधानमंत्री हैं और शायद नरेंद्र

Read more

बड़ी कठिन है न्‍याय की डगर

सब मानते हैं कि देर से मिला इंसा़फ भी नाइंसा़फी के बराबर होता है. इसके बावजूद हमारे देश में म़ुकदमे कई पीढि़यों तक चलते हैं. हालत यह है कि लोग अपने दादा और परदादा के म़ुकदमे अब तक झेल रहे हैं. इंसान खत्म हो जाता है, लेकिन म़ुकदमा बरक़रार रहता है. इसकी वजह से बेगुनाह लोग अपनी ज़िंदगी जेल की सला़खों के पीछे गुज़ार देते हैं. कई बार पूरी ज़िंदगी क़ैद में बिताने या मौत के बाद फैसला आता है कि वह व्यक्ति बेक़सूर है.

Read more

दिल्‍ली का बाबू : सीबीआई आंकड़े में पीछे

भ्रष्टाचार के मामलों में दोषियों पर आरोप सिद्ध कराने के मामले में सीबीआई इस साल पीछे रह गई है. इस साल सीबीआई भ्रष्टाचार के 64 फीसदी मामलों में ही आरोपों को प्रामाणित करने में कामयाब हो पाई है. हालांकि, सीबीआई की सफलता की यह दर पिछले कुछ साल से यूं ही घटती जा रही है. 2006 में सीबीआई ने भ्रष्टाचार के 73 फीसदी मामलों में सफलता प्राप्त की थी, जो 2009 में घटकर 58 फीसदी रह गई.

Read more