भारत: लोकतंत्र की आशा का वैश्विक अग्रदूत

मेरी राय में भारत को लोकतंत्र के वैश्विक अग्रदूत की भूमिका में आने के लिए तीन महत्वपूर्ण सुधार बिन्दुओं पर

Read more

मोदी जी ने सबसे ज्यादा भाजपा और आरएसएस का नुक़सान किया है

अब भी जिन्हें लगता है कि भारत में लोकतंत्र अपना काम ठीक से कर रहा हैं, तो मुझे अफसोस है

Read more

चम्पारण से शरद का शंखनाद, बग़ावत की धरती से लोकतंत्र बचाने निकला हूं

जनता दल यूनाइटेड से अलग होने के बाद से शरद यादव लगातार नीतीश कुमार के खिलाफ आक्रामक रुख अख्तियार किए

Read more

कीचड़ से कीचड़ साफ नहीं होता है

देश में विचित्र स्थिति उत्पन्न हो गई है और हो रही है. सरकारें आती हैं, जाती हैं. भारत एक बहुत

Read more

लोकतंत्र में सरकार मतवाला हाथी नहीं हो सकती

सुप्रीम कोर्ट के चार वरिष्ठ जजों ने पहली बार मुख्य न्यायाधीश को पत्र लिखा और प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाकर उसे सार्वजनिक

Read more

महिला आरक्षण से डर लगता है

पूरी दुनिया की संसद में महिलाओं की भागीदारी 8 फीसद भारतीय संसद में महिलाओं की भागीदारी केवल 3 फीसद नेपाल,

Read more

देश की स्थिति बिगड़ रही है

भारत एक कृषि प्रधान देश है और अगले कई साल तक कृषि प्रधान ही रहेगा. एक नीति, जो पिछली सरकार

Read more

इराक़ के ग्राउंड ज़ीरो से संतोष भारतीय की रिपोर्ट, आईएसआईएस के खिलाफ जनयुद्ध

इस समय पूरी दुनिया में सिर्फ इराक में युद्ध चल रहा है. आईएसआईएस ने इराक के एक हिस्से पर क़ब्ज़ा

Read more

हमारा भारत अच्छा है, नया भारत कैसा होगा

प्रधानमंत्री का लाल किले की प्राचीर से 15 अगस्त का भाषण लोगों के बीच चर्चा का विषय रहा. यह फीका

Read more

भारत, इज़राइल और उपेक्षा की राजनीति

इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की नैतिकता और समझ को जब कोई चुनौती देता है, तो उसे वे सार्वजनिक तौर

Read more

भाजपा के लिए अच्छा समय, लोकतंत्र के लिए खराब

पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने नवाज शरीफ को पाकिस्तान नेशनल असेंबली का सदस्य बनने के अयोग्य ठहरा दिया है और

Read more

इस चुनावी शोर में लोकतंत्र खो गया है

चुनाव बीत गए, लेकिन चुनाव की कड़वी यादें हमें बहुत दिनों तक परेशान करती रहेंगी. भारत में चुनाव पहले लोकतांत्रिक

Read more

चुनाव प्रक्रिया में बदलाव के जरिए लोकतंत्र बचाने की जन-पहल प्रत्याशी का चेहरा बने चुनाव चिन्ह

इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन से चुनाव चिन्ह की अनिवार्यता हटाने के लिए तेज़ हो रहा आंदोलन इलेक्ट्र्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) से

Read more

उत्तराखंड चुनाव : मुख्यधारा की पार्टियों से परेशान जनता ने उतारे जन उम्मीदवार

हाल के वर्षों में जिस तरह से राजनीतिक दल जन सरोकारों से दूर होते जा रहे हैं, इससे आम जनता

Read more

क्या लोकतंत्र का यह स्वरूप नैतिक और संविधान सम्मत है!

जैसे-जैसे आजाद हुए समय बीतता जा रहा है, वैसे-वैसे ऐसा लगता है कि पुराने लोग देवताओं के समान थे और

Read more

पहली इस्लामिक बैंकिंग सेवा : मज़बूत होगा लोकतंत्र

ब्याज आधारित कर बोझ के तले दबी हुई दुनिया में पिछले दिनों महाराष्ट्र के सोलापुर में सहकारिता, विपणन व कपड़ा

Read more

कश्मीर एक मानवीय समस्या है

(1 फ़रवरी 1972 को जयप्रकाश नारायण का हिंदुस्तान टाइम्स में प्रकाशित पत्र) जबसे मैंने 13-1-1972 के अंक में जम्मू और

Read more

बारिश सालाना लूट का वसंत उत्सव है

बारिश क्या हुई सारे देश का एक जैसा हाल हो गया. सरकार चाहे भारतीय जनता पार्टी की हो, कांग्रेस की

Read more

भारत की व्यापक कश्मीर नीति पर सर्वदलीय बैठक की एक राय : पीओके भी भारत का हिस्सा है

कश्मीर में महीने भर से जारी हिंसा और कर्फ्यू के मसले पर सड़क से लेकर संसद तक मामला गरमाने के

Read more

अनशन खत्म संघर्ष जारी

लोकतंत्र में जब कोई व्यक्ति व्यवस्था से हताश निराश हो जाता है, तो उसके पास बहुत सीमित विकल्प होते हैं.

Read more

मोदी जी! लोगों के विश्वास के साथ शासन करिए… : नीयत सही नीति बदलें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल में कहा है कि मीडिया का एक खास तबका उन्हें सत्ता में नहीं आने देना

Read more

संविधान का क्रियान्वयन सटीक होना चाहिए

उत्तराखंड में विश्वास मत हासिल करने से पहले राष्ट्रपति शासन लगाने के मामले की सुनवाई उत्त्तराखंड हाईकोर्ट से होती हुई

Read more

उम्मीद करिए कि एक बेहतर मानसून आए

बॉम्बे हाईकोर्ट ने बीसीसीआई को आदेश दिया है कि वह महाराष्ट्र में खेले जाने वाले आईपीएल मैचों को किसी दूसरी

Read more

अति आत्मविश्वास से बचे भाजपा

भारत एक ऐसा लोकतंत्र है, जहां हमेशा चुनाव होते रहते हैं. यहां दो आम चुनावों के बीच हर साल तीन

Read more

लोकतंत्र को तुम क्या जानो करन जौहर!

जयपुर के डिग्गी पैलेस में एक बार फिर से साहित्य का सबसे बड़ा मीना बाजार सजा. जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में

Read more

हरियाणा पंचायत चुनाव : उच्चतम न्यायलय को फैसले पर पुनर्विचार करना चाहिए

संविधान हमें देश का नागरिक होने के नाते कई अधिकार देता है, उन अधिकारों को सुरक्षित रखने का जिम्मा देश

Read more