झारखंड में अधिकारियों और बिचौलियों का बेजोड़ गठजोड़ : घोटालों में डूबा डोभा प्रोजेक्ट

राज्य की महत्वाकांक्षी डोभा निर्माण योजना भी घोटालों की भेंट चढ़ गया. गांव एवं खेतों में बने गड्ढे का फोटो

Read more

अब अन्ना की नहीं, आपकी परीक्षा है

अन्ना हज़ारे और जनरल वी के सिंह ने बनारस में छात्रों की एक बड़ी सभा को संबोधित किया. मोटे अनुमान के हिसाब से 40 से 60 हज़ार के बीच छात्र वहां उपस्थित थे. छात्रों ने जिस तन्मयता एवं उत्साह से जनरल वी के सिंह और अन्ना हज़ारे को सुना, उसने कई संभावनाओं के दरवाज़े खोल दिए. पर सबसे पहले यह देखना होगा कि आख़िर इतनी बड़ी संख्या में छात्र अन्ना हज़ारे और वी के सिंह को सुनने के लिए क्यों इकट्ठा हुए, क्या छात्रों को विभिन्न विचारों को सुनने में मज़ा आता है, क्या वे नेताओं के भाषणों को मनोरंजन मानते हैं, क्या छात्रों में जनरल वी के सिंह और अन्ना हज़ारे को लेकर ग्लैमरस क्रेज़ दिखाई दे रहा है या फिर छात्र किसी नई खोज में हैं?

Read more

एक नहीं, देश को कई केजरीवाल चाहिए

साधारण पोशाक में किसी आम आदमी की तरह दुबला-पतला नज़र आने वाला शख्स, जो बगल से गुजर जाए तो शायद उस पर किसी की नज़र भी न पड़े, आज देश के करोड़ों लोगों की नज़रों में एक आशा बनकर उभरा है. तीखी बोली, तीखे तर्क और ज़िद्दी होने का एहसास दिलाने वाला शख्स अरविंद केजरीवाल आज घर-घर में एक चर्चा का विषय बन बैठा है. अरविंद केजरीवाल की कई अच्छाइयां हैं तो कुछ बुराइयां भी हैं. उनकी अच्छाइयों और बुराइयों का विश्लेषण किया जा सकता है, लेकिन इस बात पर दो राय नहीं है कि देश में आज भ्रष्टाचार के खिला़फ जो माहौल बना है, उसमें अरविंद केजरीवाल का बड़ा योगदान है.

Read more

सच का सिपाही मारा गया

सच जीतता ज़रूर है, लेकिन कई बार इसकी क़ीमत जान देकर चुकानी पड़ती है. सत्येंद्र दुबे, मंजूनाथ, यशवंत सोणावने एवं नरेंद्र सिंह जैसे सरकारी अधिकारियों की हत्याएं उदाहरण भर हैं. इस फेहरिस्त में एक और नाम जुड़ गया है इंजीनियर संदीप सिंह का. संदीप एचसीसी (हिंदुस्तान कंस्ट्रक्शन कंपनी) में हो रहे घोटाले को उजागर करना चाहते थे.

Read more

देशद्रोहियों के चेहरों से नक़ाब हटाए

सेना का यह पूरा क़िस्सा पिछले तीन महीने से चल रहा है और लगातार अलग-अलग तरह के आरोप, चाहे मीडिया हो या संसद के सदस्य हों, लगाते आ रहे हैं. वे आरोप हैं जनरल वी के सिंह पर. आरोप यह है कि हर चीज़ जनरल वी के सिंह ने एक रणनीति के तहत की. खुलासे भी उन्होंने किए, चिट्ठियां भी उन्होंने लिखीं, दिल्ली पर क़ब्ज़ा करने की कोशिश भी उन्होंने की.

Read more

व़क्त की नज़ाकत को समझने की ज़रूरत

अक्सर यह माना जाता है कि नियम बनाए जाते हैं और बनाते समय ही उसे तोड़ने के रास्ते भी बन जाते हैं. क़ानून बनाए जाते हैं और उनसे बचने का रास्ता भी उन्हीं में छोड़ दिया जाता है तथा इसी का सहारा लेकर अदालतों में वकील अपने मुल्जिम को छुड़ा ले जाते हैं. शायद इसीलिए बहुत सारे मामलों में देखा गया है कि अपराधी बाहर घूमते हैं, जबकि बेगुनाह अंदर होते हैं.

Read more

दिल्‍ली का बाबूः सूचना आयोग के बाबू

आरटीआई कार्यकर्ताओं को हमेशा इस बात की शिकायत रहती है कि अधिकारियों को ही सूचना आयुक्त क्यों बनाया जाता रहा है. 2005 में केंद्रीय सूचना आयोग का गठन किया गया, लेकिन उस समय से देखा जाए तो कई सूचना आयुक्त यहां तक कि मुख्य सूचना आयुक्त भी सिविल सेवा के अधिकारी रहे हैं.

Read more

इंदिरा आवास योजनाः जहां देखो वहां घपला

विकास का पहिया राजनीति के मकड़ जाल में उलझ कर आम आदमी के लिए कैसे परेशानियां पैदा करता है, इसे उत्तर प्रदेश में रहने वाले ग़रीबों से ज़्यादा कौन समझ सकता है. 1980 में ग्रामीण आवास कार्यक्रम के तहत शुरू की गई इंदिरा आवास योजना अब भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ती नज़र आ रही है. केंद्र द्वारा मिलने वाले बजट से चल रही यह योजना राजनीतिक नामकरण के चलते प्रशासनिक उपेक्षा का दंश सहने को मजबूर है.

Read more

दिल्‍ली का बाबूः बेदाग़ अधिकारी चाहिए

फिलहाल, सरकार अभी अपना ध्यान पूरी तरह से कैबिनेट में किए जाने वाले फेरबदल के अलावा अन्ना हज़ारे और रामदेव के आंदोलन से भ़डकी आग को बुझाने पर केंद्रित कर रही है, लेकिन इसके अलावा भी बहुत से काम प्रतीक्षा सूची में हैं, जिन्हें जल्दी से जल्दी यानी कुछ ही हफ्तों के भीतर किया जाना है.

Read more

सहयोगी समेत दर्जनों संतों के खिला़फ मुक़दमा

बाबा रामदेव और उनके स्वाभिमान ट्रस्ट के पदाधिकारियों ने संतों के खिला़फ हरिद्वार कोतवाली में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय प्रवक्ता हठयोगी समेत बीस-पच्चीस लोगों के विरुद्ध आपराधिक मुकदमा दर्ज कराकर आग में घी डालने का काम कर दिया है.

Read more

दिल्ली का बाबूः डीडी निदेशक पद के लिए जंग शुरू

प्रसार भारती के निलंबित मुखिया बी एस लाली को लेकर अटकलें अब भी तेज़ हैं, जबकि यह मामला अब कोर्ट में है. सूत्रों के मुताबिक़ सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय और विधि मंत्रालय के बीच तनातनी इस बात को लेकर है कि विधि मंत्रालय ने बी एस लाली के केस में अपना वकील बदल लिया है. अब बाबुओं के बीच दूरदर्शन के महानिदेशक पद के लिए जंग शुरू हो गई है, क्योंकि पूर्व महानिदेशक अरुण शर्मा भी लाली के साथ भ्रष्टाचार के आरोप में बाहर हो चुके हैं.

Read more

दिल्‍ली का बाबूः चुनावी दबाव

चुनाव आयोग के अधिकारियों के लगातार पश्चिमी बंगाल के दौरों से न स़िर्फ सत्ताधारी वामपंथी दल, बल्कि राज्य सरकार के बाबू भी परेशान हैं. नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के दो वरिष्ठ आईपीएस अधिकारियों जकी अहमद और पीआरके नायडू ने बंगाल के ज़िला स्तर के बाबुओं को निर्देश दिया है कि वे ऐसे संभावित लोगों की पहचान करें, जो चुनाव के व़क्त अशांति फैला सकते हैं और अवैध हथियार ज़ब्त करें.

Read more

सेल का मुना़फा 1107 करोड़

सेल की अनशंगी इकाई आरडीसीआइएस के मानव संसाधन विभाग द्वारा आयोजित सुझाव मेले में सेलकर्मियों ने अपने बहुमूल्य सुझाव दिए

Read more

भूमिहीनों का होगा बीमा

श्रम संसाधन मंत्री जनार्दन सिंह सिग्रीवाल के प्रयास से राज्य के ग्रामीण भूमिहीनों का बीमा मुफ्त में किया जाएगा, जिसका प्रीमियम 2 सौ रुपया सालाना सरकार भरेगी. वैसे उन ग्रामीण भूमिहीनों का बीमा होगा, जिनकी ज़मीन 50 डेसिमिल से कम होगी और जिनकी उम्र 18 से 59 वर्ष के बीच होगी.

Read more

दिल्‍ली का बाबूः बदलाव की बयार

देश की सर्वोच्च जांच एजेंसी सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इंवेस्टिगेशन (सीबीआई) आजकल का़फी व्यस्त है. हाल के दिनों में जिस तरह एक के बाद एक घोटाले सामने आ रहे हैं, सीबीआई के अधिकारी जांच कार्यों में बुरी तरह उलझे हुए हैं.

Read more

अमेरिकाः युवा चीनी सैन्‍य अधिकारियों को रिझाने का प्रयास

पेंटागन चीनी सैन्य अधिकारियों, विशेषकर युवा अधिकारियों के साथ नज़दीकियां बढ़ाने की कोशिश कर रहा है. कुछ दिनों पहले पेंटागन और पीपुल्स आर्मी ऑफ चाइना के शीर्ष अधिकारियों के बीच बैठक के बाद अमेरिका ने घोषणा की कि चीन के साथ उसके सैन्य संबंध सामान्य होते जा रहे हैं.

Read more

दिल्‍ली का बाबूः नया चेयरमैन नहीं मिला

राष्ट्रीय राजमार्गों पर आसानी से दिख जाने वाला गड्‌ढा राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) की अंदरूनी हालत की असली तस्वीर पेश करता है. सरकार ने एनएचएआई के नए अध्यक्ष की तलाश में एक साल तक कोशिश की, लेकिन उपयुक्त उम्मीदवार न मिलता देख वह इसके मौजूदा अध्यक्ष ब्रजेश्वर सिंह को तीन महीने का सेवा विस्तार देने का फैसला लेने के लिए मजबूर हो गई.

Read more

जेल की कहानीः तबादले के लिए कैदियों को पीटो…

नागपुर के वर्धा रोड स्थित केंद्रीय कारा में अपने गुनाहों की सज़ा काट रहे क़ैदियों को यहां के अधिकारी और कर्मचारी उन्हें बेरहमी से इस क़दर मारते-पीटते हैं कि किसी की उंगली टूट जाती है तो किसी की कमर में मोच आ जाती है. इस केंद्रीय कारा की अव्यवस्था और यहां के अधिकारियों और कर्मचारियों की काली करतूतों का पर्दा़फाश एक क़ैदी ने पत्र लिख कर किया है.

Read more

बेरोज़गारों को ठगने में लगे हैं नेता और अफसर

छत्तीसगढ़ के राजनेता अधिकारी और शक्तिशाली कर्मचारी इन दिनों नौकरियों के नाम पर बेरोज़गारों से जबरन वसूली कर रहे हैं. आदिवासियों और बेरोजगारों को विभिन्न पदों पर नियुक्ति देने के नाम पर उनसे मोटी रकम वसूल की जा रही है. इसके बाद भी नियुक्ति पत्र गायब हैं.

Read more

विपक्ष सो रहा है

यह देश का दुर्भाग्य है कि हमारे यहां विश्वसनीय विपक्ष नहीं है. कहने को तो विपक्ष है, लेकिन उसे अपने कर्तव्यों और ज़िम्मेदारियों का एहसास ही नहीं है. महंगाई हो या बेरोज़गारी या फिर जनता से जुड़ी अन्य विभिन्न समस्याएं, विपक्ष चुप है. आईपीएल का घोटाला, जिसमें नेताओं, मंत्रियों, औद्योगिक घरानों एवं बीसीसीआई के अधिकारियों पर मैच फिक्सिंग से लेकर अंडरवर्ल्ड की मिलीभगत तक का खुलासा हुआ,

Read more

दिल्‍ली का बाबूः नौकरशाहों का बढ़ा रुतबा

प्रशासन में विशेषज्ञ और सामान्य के बीच का मतभेद नया नहीं है और न ही यह बात किसी से छुपी है कि विशेषज्ञों को उनके काम के मुताबिक़ महत्व नहीं मिलता. इन दिनों सड़क परिवहन मंत्रालय के इंजीनियरों की फौज नौकरशाहों से ख़़फा है. इंजीनियरों का आरोप है कि नौकरशाह उन्हें किनारे करने की कोशिश कर रहे हैं.

Read more

सार-संक्षेप: मध्य प्रदेश-अंधेर नगरी, चौपट राजा

मध्य प्रदेश सरकार में कुछ भी अजूबा नहीं है. हाल ही में खंडवा के विकास आयुक्त कार्यालय के मुख्य कार्यपालन अधिकारी के स्टेनों ने 32 कर्मचारियों की अवैध रूप से नियुक्ति कर उनसे लाखों रुपयों की अवैध कमाई कर ली, लेकिन मामला प्रकाश में आते ही इसे दबा दिया गया. खंडवा से प्राप्त जानकारी के अनुसार पिछले 14 नवंबर 2008 को विकास आयुक्त कार्यालय भोपाल से संयुक्त आयुक्त के नाम से एक आदेश जारी हुआ,

Read more

हेडली से 26 नवंबर की पूरी सूची मांगें

डेविड कोलमैन हेडली उर्फ दाऊद गिलानी उर्फ जाने क्या-क्या. अलग-अलग पहचान और विश्वासों के साथ केवल एक चीज के प्रति ही हेडली प्रतिबद्ध रहा है, धोखा और अविश्वास के आधुनिकतम सिद्धांतों के प्रति. यह सही है कि आप उसे विश्व के सर्वश्रेष्ठ अपराधियों की श्रेणी में नहीं रख सकते.

Read more

नगर परिषद मोतिहारी : क्यों न सिर शर्म से झुका लें

तेईस मार्च को मोतिहारी नगर परिषद की बैठक में जो शर्मनाक घटना हुई वह शहर के इतिहास का काला अध्याय बन गई. नगर सभापति, उपसभापति और कार्यपालक पदाधिकारी के पी सिंह की मौजूदगी में नगर पार्षदों ने एक दूसरे पर कुर्सियां फेंकीं एवं मारपीट की, जिसमें कई पार्षद घायल हो गए.

Read more

भ्रष्ट राशन दुकानदारों का इलाज है आरटीआई

भारत में राशन व्यवस्था की शुरुआत के पीछे का एक मक़सद यह भी था कि कम आय वाले लोगों और ग़रीब आदमी को दो व़क्त का भोजन नसीब हो सके, लेकिन ग़रीब लोगों का भोजन भी भ्रष्टाचारियों की गिद्ध दृष्टि से बच नहीं सका. लगातार आरोप लगते रहे हैं कि ग़रीबों के हिस्से का राशन अधिकारी से लेकर राशन दुकानदार तक मिल-बांट कर खा रहे हैं.

Read more

दिल्‍ली का बाबू : नौकरशाहों का शोर-दिल्ली चलो

वामपंथी धड़े से जुड़े राजनीतिज्ञ यदि पूर्वाभासों में भरोसा रखते हैं, तो उन्हें पश्चिम बंगाल और केरल में नौकरशाही के बदले रुख पर गौर करना चाहिए. जैसा कि हमने पहले भी बताया था कि पश्चिम बंगाल कैडर के कई वरिष्ठ अधिकारी राज्य से बाहर प्रतिनियुक्ति के लिए हाथ-पैर मार रहे हैं. अब तो हालत यह है कि ऐसे नौकरशाहों की संख्या लगातार तेजी से बढ़ती ही जा रही है.

Read more