जर्नलिज्म स्कूल बचाएंगे प्रेस की आज़ादी!

डोनाल्ड ट्रम्प ने लम्बे समय से जारी न्यूज मीडिया पर अपने हमलों की तिव्रता बढ़ा दी है. पिछले दिनों रिपब्लिकन

Read more

अन्‍ना की हार या जीत

अन्ना हजारे ने जैसे ही अनशन समाप्त करने की घोषणा की, वैसे ही लगा कि बहुत सारे लोगों की एक अतृप्त इच्छा पूरी नहीं हुई. इसकी वजह से मीडिया के एक बहुत बड़े हिस्से और राजनीतिक दलों में एक भूचाल सा आ गया. मीडिया में कहा जाने लगा, एक आंदोलन की मौत. सोलह महीने का आंदोलन, जो राजनीति में बदल गया. हम क्रांति चाहते थे, राजनीति नहीं जैसी बातें देश के सामने मज़बूती के साथ लाई जाने लगीं.

Read more

पत्रकार की नज़र में आंदोलन

काफी लंबे समय के बाद भारतीय समाज में एक ऐसा आंदोलन देखने को मिला, जिसके समर्थन में जनता स्वत:स्फूर्त तरीक़े से सामने आई. जनता के समर्थन से होने वाले इस आंदोलन ने सरकार की नींद उड़ा दी. अगर हम भारतीय राजनीतिक परिदृश्य पर नज़र डालते हैं तो जय प्रकाश नारायण की संपूर्ण क्रांति के आंदोलन के बाद यह पहला बड़ा आंदोलन था, जिसे देशव्यापी जनसमर्थन मिला.

Read more