मध्य प्रदेश: स्कूली बच्चों के लिए अजब-गजब फरमान, अब ‘यस सर’ नहीं ‘जय-हिंद’ बोलना होगा!

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश के बीजेपी सरकार के शिक्षा मंत्री कुंवर विजय के बयान पर विवाद गर्मा गया है। उन्होंने

Read more

भूमाफिया लील रहे हैं तालाब

जल समस्या से निपटने के लिए मध्य प्रदेश सरकार की जल संवर्धन और जल संरक्षण नीति में करोड़ों रुपए खर्च करने के बाद सतना ज़िले को पानी की समस्या से उबारा नहीं जा सका है. ये सभी नीतियां फिलव़क्त तक अप्रभावी हैं. 25 जुलाई 2001 को सुप्रीम कोर्ट ने आज़ादी के पूर्व से अस्तित्व में रहे तालाबों को अतिक्रमणकारियों के क़ब्ज़े से मुक्त कराकर पुन: तालाब के रूप में विकसित किया जाने का फरमान जारी किया गया था.

Read more

बारूद के ढेर पर सतना शहर

विंध्य अंचल का सतना शहर बारूद के ढेर पर बसा है. शहर में वैध-अवैध विस्फोटकों के ज़खीरे जहां-तहां जमा हैं. सतना और आसपास के खनन उद्योग में बारूद की ज़रूरत होती है और इसके लिए विस्फोटकों का वैध रूप से कारोबार किया जाता है. इसके अलावा इस क्षेत्र में कुओं की खुदाई, सड़क, भवन और अन्य निर्माण कार्यों में भी चट्‌टानों को काटने के लिए विस्फोटकों की ज़रूरत होती है.

Read more

सतना पुलिस चौकी को अस्तित्व की तलाश

सतना स्टेशन स्थित जीआरपी पुलिस की चौकी अंग्रेज़ों के राज्य में 160 साल पहले स्थापित की गई थी. मुंबई-हावड़ा प्रमुख रेल मार्ग से गुज़रने वाली सभी ट्रेनें इस चौकी से होकर ही गुज़रती थी. चौकी की स्थापना के समय सतना रेलवे स्टेशन से काशी एक्सप्रेस, मुंबई हाबड़ा मेल, इटारसी इलाहाबाद पेसेंजर और बाम्बे जनता मेल ही गुज़रता था.

Read more

कुछ और इनामी डकैतों से छुटकारा मिला

तराई क्षेत्र में आतंक का पर्याय रहे ददुआ और ठोकिया गिरोह की तरह ही छोटे-छोटे गिरोह द्वारा प्रदेश में आतंक फैलाने की होड़ मची हुई है. लेकिन पिछले कुछ समय से पुलिस कई ऑपरेशन के जरिए का़फी हद तक इनका खात्मा करने में कामयाब रही है. इसी क़डी में सतना पुलिस ने कई घंटे चली मुठभेड़ के बाद चार इनामी डकैतों को ढेर करने में सफलता हासिल की है.

Read more