राजनीतिक दलों का रवैया गुस्सा दिलाता है

महाभारत शायद आज की सबसे बड़ी वास्तविकता है. इस महाभारत की तैयारी अलग-अलग स्थलों पर अलग तरह से होती है और लड़ाई भी अलग से लड़ी जाती है, लेकिन 2013 और 2014 का महाभारत कैसे लड़ा जाएगा, इसका अंदाज़ा कुछ-कुछ लगाया जा सकता है, क्योंकि सत्ता में जो बैठे हुए लोग हैं या जो सत्ता के आसपास के लोग हैं, वे धीरे-धीरे इस बात के संकेत दे रहे हैं कि वे किन हथियारों से लड़ना चाहते हैं.

Read more

नए नारे, नए तीर

उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी अपना दमखम दिखाने की पुरजोर कोशिश में है. जबसे भाजपा ने बसपा के भ्रष्ट मंत्री बाबू सिंह कुशवाहा को अपनाया है, तबसे भाजपा की परेशानियां बढ़ गई हैं. भाजपा कुशवाहा के ज़रिए जहां बसपा के घोटालों को उजागर करेगी, वहीं मौर्य, सैनी एवं कुशवाहा आदि के क़रीब 8 प्रतिशत वोट भी अपने पाले में खींच लेगी. अब तक कोई मुद्दा अपने पक्ष में न कर पाने वाली भाजपा अब उस रास्ते पर चल निकली है, जहां से उसे एक बड़ी स़फलता मिल सके.

Read more