हरियाणा: कर्मचारियों की मंत्री से वार्ता हुई विफल, टूटी हड़ताल खत्म होने की उम्मीद

हरियाणा रोडवेज कर्मचा‍रियों की हड़ताल को आज नौ दिन हो गए पर इस हड़ताल के खत्‍म होने की उम्‍मीद बुधवार

Read more

अब दस साल पुराना लाइसेंस दिखाकर पाए कंडक्टर-ड्राईवर की नौकरी

रोडवेज कर्मचारियों द्वारा शुरू की गई हड़ताल को बुधवार को यानि कल नवां दिन हो गया है. हड़ताल का अब

Read more

बंद होगी दिल्ली मेट्रो, जानिए क्या है पूरा मामला

दिल्ली मेट्रो में सफर करने वाले यात्रियों के लिए एक बुरी खबर है। दिल्ली वासियों की लाइफलाइन बन चुकी मेट्रो

Read more

केजरीवाल और मंत्रियों से हाई कोर्ट का सवाल- किसकी इजाजत से धरने पर बैठे

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और मंत्रियों द्वारा धरना करने को लेकर हाई कोर्ट ने तल्ख टिप्पणी की है. दिल्ली

Read more

इमिगे्रशन पॉलिसी के विरोध में न्यूयार्क में ‘आई एम मुस्लिम’  के लगे नारेे

 डोनाल्ड ट्रम्प की इमिग्रेशन पॉलिसी के विरोध में न्यूयॉर्क में जगह-जगह प्रदर्शन हो रहे हैं. ‘मैं मुस्लिम भी हूं’ के

Read more

मध्‍य प्रदेश: पुलिस बर्बरता के शिकार हुए किसान

भूमि अधिग्रहण के लिए सरकार भले ही एक मज़बूत क़ानून बनाने की बात कर रही हो, लेकिन सच्चाई इसके विपरीत है. यही वजह है कि देश की सभी राजनीतिक पार्टियां किसानों और मज़दूरों के हितों की अनदेखी करते हुए निजी कंपनियों को फायदा पहुंचाने में जुटी हैं. बात चाहे कांग्रेस शासित महाराष्ट्र की हो या फिर भाजपा शासित मध्य प्रदेश की, हालात कमोबेश एक जैसी ही हैं.

Read more

अभिव्यक्ति की आज़ादी क़ायम रहे

अगर आप अपने गांव और शहर से सैकड़ों मील दूर हैं, तो इसकी संभावना न के बराबर है कि अख़बारों और न्यूज चैनलों पर आप अपने गृह जनपद की छोटी-बड़ी ख़बरें देख पाएं. भारत में इंटरनेट क्रांति आने के बाद यह सपना साकार होने लगा. लिहाज़ा सात समंदर पार रहने वाले लोग भी इंटरनेट पर वेबसाइटों और ब्लॉगों पर हर वह चीज़ पढ़ पाते हैं, जिसकी कल्पना कुछ साल पहले नहीं की जा सकती थी.

Read more

अजब ग़ज़ब हड़ताल

अभी तक आपने महंगाई और भ्रष्टाचार पर ह़डताल होते देखी होगी, लेकिन ये कुछ अलग तरह की हड़ताल है. श्रीलंका में वन्य अभयारण्यों में तैनात पशु चिकित्सक हाथियों के पक्ष में हड़ताल पर चले गए हैं. श्रीलंका के पशु चिकित्सकों का कहना है कि सरकार जंगली हाथियों और लोगों के बीच संघर्ष को रोकने में नाकामयाब रही है. इसके विरोध में सभी 11 पशु चिकित्सक हड़ताल पर चले गए.

Read more

सांप्रदायिक दंगे और 2010

स्‍वतंत्रता के बाद के भारत में शायद ही कोई ऐसा साल गुजरा हो, जो पूरी तरह से दंगामुक्त रहा हो. कुछ साल तो सांप्रदायिक दंगों की भयावहता और व्यापकता के लिए हमेशा याद किए जाएंगे. इनमें शामिल हैं 1992-93 (बाबरी विध्वंस के बाद हुए दंगे), 2002 (गुजरात) और 2008 (कंधमाल में ईसाई विरोधी हिंसा).

Read more

सुप्रीम कोर्ट की चेतावनी

हर दिन एक न एक नया घोटाला आम जनता के सामने उजागर हो रहा है. अ़फसोस की बात यह है कि यह सब ऐसे प्रधानमंत्री के शासनकाल में हो रहा है, जो स्वयं ईमानदार एवं सज्जन पुरुष हैं. जिस तरह हर दिन एक के बाद एक घोटाले सामने आ रहे हैं, सरकारी तंत्र में फैले भ्रष्टाचार की असलियत सामने आ रही है, मन में एक सवाल उठता है कि अगर आज गांधी ज़िंदा होते तो क्या करते. शायद सत्याग्रह या फिर भूख हड़ताल के बजाय शर्म से आत्महत्या करने के अलावा उनके पास कोई दूसरा रास्ता नहीं बचता.

Read more