पुरुष अगर सोडा वाले ड्रिंक पीते हैं तो आज ही कर लें तौबा नहीं तो…

नई दिल्ली : विशेषज्ञों के मुताबिक़ आजकल पुरुषों में नपुंसकता एक आम बीमारी हो गयी है जिसका कारण व्यस्त जीवनशैली

Read more

सबसे मोटी महिला इमान की बहन का दावा, इलाज के नाम पर डॉक्टर बना रहे बेवकूफ

नई दिल्ली, (विनीत सिंह) : इलाज कराने के लिए फरवरी महीने में भारत आयी दुनिया की सबसे वजनी महिला ईमान

Read more

मर्दों की पहली पसंद बन चुकी है ये महिला, दुनिया में सबसे परफेक्ट फिगर इन्हीं का है

नई दिल्ली : हर लड़की की इच्छा होती है कि उसका फिगर सबसे अच्छा हो लेकिन खान पान की आदतों

Read more

महिला के पेट से निकला भयानक जीव, तस्वीरें देख कर डर जायेंगे आप

नई दिल्ली, (विनीत सिंह) : आपने कई बार सुना होगा की किसी महिला ने अजीबो गरीब दिखने वाले बच्चे को

Read more

सुल्तानपुर : रेप पीड़ित महिला की हत्या के आरोप में अखिलेश के करीबी विधायक पर केस दर्ज

नई दिल्ली, (विनीत सिंह) : सुलतानपुर के जयसिंहपुर से समाजवादी पार्टी के विधायक व अरुण वर्मा मुसीबत में घिरते हुए

Read more

नारी की संपूर्णता प्रेम में निहित है

समय बदला, हालात बदले लेकिन नहीं बदली तो नारी की नियति. नारी सदैव प्रेम के नाम पर छली गई. उसने पुरुष से प्रेम किया, मन से, विचारों से और तन से. मगर बदले में उसे क्या मिला धोखा और स़िर्फ धोखा. पुरुष शायद प्रेम के महत्व को जानता ही नहीं, तभी तो वह नारी के साथ प्रेम में रहकर भी प्रेम से वंचित रह जाता है, जबकि नारी प्रेम में पूर्णता प्राप्त कर लेती है.

Read more

गुस्से में लाखों का नुक़सान

इंसान गुस्से में न जाने क्या-क्या कर बैठता है. उसे यह नहीं पता होता कि वह क्या कर रहा है और अपना ही नुक़सान कर बैठता है. अगर आपकी पत्नी गुस्से में है तो अपने नोटों को बचाने की जुगत लगाना शुरू कर दीजिए. चीन में पति-पत्नी की आपसी अनबन में एक महिला ने 4 लाख रुपये के नोट चिंदी-चिंदी कर डाले. जब उसका पति उन फटे हुए नोटों को लेकर बैंक पहुंचा तो वहां के कर्मचारियों के हाथ-पांव फूल गए.

Read more

सुनील कुमार जेएस एंड एफए बने

1981 बैच के आईडीएएस अधिकारी सुनील कुमार कोहली जल संसाधन मंत्रालय में संयुक्त सचिव और वित्तीय सलाहकार बनाया गया है. वह अनन्या रे की जगह लेंगे.

Read more

जाने कब तक तेरी तस्वीर निगाहों में रही

पाकिस्तान की मशहूर शायरा परवीन शाकिर के कलाम की खुशबू ने न केवल पाकिस्तान, बल्कि हिंदुस्तान की अदबी फिज़ा को भी महका दिया. वह अपना पहला काव्य संग्रह आने से पहले ही इतनी मशहूर हो चुकी थीं कि जहां भी शेरों-शायरी की बात होती, उनका नाम ज़रूर लिया जाता. उनका पहला काव्य संग्रह खुशबू 1976 में प्रकाशित हुआ

Read more

पत्नी का पति औरत

दुनिया भी बड़ी अजीबोग़रीब है. न जाने यहां कैसे-कैसे करिश्मे हो जाते हैं. अब एक करिश्मा और सुनिए. अक्सर लोग शादी को लेकर उत्साहित होकर कई उल्टे-सीधे फैसले लेते हैं. कई बार उन्हें धोखे भी मिलते हैं और कई बार तो दुल्हन ही बदल जाती है.

Read more

तस्‍करी की शिकार महिलाओं का पुनर्वास कैसे हो?

यह कविता (बांग्ला से अनुवाद) है यौवन की दहलीज पर खड़ी चांदनी की, जो कोलकाता के एक होम में अपनी नई ज़िंदगी के सपने के साथ खुले आकाश में उड़ना चाहती है. चांदनी जैसी लाखों लड़कियां देश भर के सैकड़ों सरकारी और ग़ैर सरकारी होम या सुधारगृहों में बैठकर सपने बुनती हैं, पर कितनों को उज्ज्वल भविष्य की सौगात मिलती है, इस पर बहुतों का ध्यान नहीं जाता.

Read more

यूरोप में महिलाओं पर अत्याचार

बीबीसी की एक रिपोर्ट के अनुसार, यूरोप और अमेरिका में रहने वाले दक्षिणी एशियाई ख़ानदानों में सैकड़ों महिलाएं ऐसी हैं, जिन्हें ग़ुलामों की तरह रखा जाता है. हाल के दिनों में कई ऐसे मामले सामने आए हैं, जिनमें पर्दे में रहने वाली मुस्लिम महिलाओं को ब्याह कर पाकिस्तान लाया गया और ग़ुलामों की ज़िंदगी जीने पर विवश किया गया.

Read more

नीतीश को पटखनी देंगे शरद

राज्यसभा में महिला बिल को लेकर हुई फजीहत के बाद आहत शरद यादव ने लोकसभा में आने वाले इस बिल और राज्यसभा चुनाव में नीतीश कुमार को पटखनी देने की तैयारी शुरू कर दी है.

Read more

कोई नहीं रोक सकता हमें राजनीति करने से

मुसलमान औरतों का भला राजनीति में क्या काम? वे कैसे आ सकती हैं राजनीति में.अल्लाह ने औरतों को महज़ बच्चा पैदा करने के लिए ही ज़मीन पर भेजा है. उनका काम है कि वे घर बैठें और अच्छी नस्ल के बच्चे पैदा करें. उन्हें डाक्टर और इंजीनियर बनाएं. अच्छे नेता पैदा करें. राजनीति से वे तो दूर ही रहें वही बेहतर है…..

Read more

औरत के अधिकार के लिए आवाज़ उठाने का मतलब है मुसीबत को हवा देना

औरतों के फर्ज़ की जब बात आती है तो सारा मंच एक तऱफ दिखाई देता है, चाहे वह राजनीतिक हो, धार्मिक हो या फिर स्कॉलर हों या धर्मगुरु. लेकिन जब औरत के हक़ की बात आती है, चाहे उस हक की आवाज़ को दूसरे ही क्यों न उठाएं या वह ख़ुद मांगे, तो सारा समाज अचानक बंट जाता है.

Read more

अंधे सिर्फ आलोचना करते हैं समाधान नहीं देते

औरतों के इतिहास में एक सम्मानजनक नाम आया है, जिन्हें बीबी मरियम कहा जाता है. मरियम का मतलब पाकीज़ा होता है यानी पवित्रता. मरियम को हमारे देश के ईसाई और तक़रीबन सभी समुदाय के लोग बड़े सम्मान और श्रद्धा से जानते हैं. इस्लाम में तो उनका बड़ा महत्व है. जब कमतर और बेहतर जमा होते हैं तो एक समाज बनता है.

Read more

औरतों का मुक़ाम समाजी और सियासी दोनों है

सामाजिक जीवन में पुरुष-महिला का रिश्ता सबसे अहम है. उसका कारण यह है कि यह रिश्ता मानवीय संवेदना की बुनियाद है और इसमें मामूली सी ग़लती भी सामाजिक ढांचे को बदनुमा और दाग़दार बना सकती है. हमारा इतिहास औरतों पर होने वाले अत्याचार और पाबंदियों के कलंकित दृश्यों से भरा पड़ा है.

Read more

इस्लाम और महिलाओं में खाई पैदा मत कीजिए

संसद के उच्च सदन में महिला आरक्षण बिल पास होने के बाद कुछ अजीब तरह की आवाज़ें सुनाई दे रही हैं. कुछ ऐसे सम्माननीय लोगों ने भी अपनी झुंझलाहट प्रकट की है, जिनसे इसकी अपेक्षा नहीं की जा सकती थी.

Read more