Now Reading:
सांप और आदमी साथ-साथ रहते हैं

सांप एक ऐसा जानवर है जिसका नाम सुनकर ही लोगों के रोंगटे खड़े हो जाते हैं, जिसे अनायास देखकर लोगों के मुंह से अक्सर चीख निकल जाती है. मगर, एक ऐसा गांव भी है जहां के निवासी इसी सांप के साथ रहते हैं. यह प़ढकर आप सोच में पड़ जाएंगे, लेकिन बात सौ फीसदी सच है. आश्चर्य की बात तो यह भी है इस गांव में आज तक एक भी आदमी की मौत सांप के काटने से नहीं हुई है. इसे आप क्या कहेंगे!

नागलोक के नाम से जाने जाने वाले इस गांव में पहले कई बार सपेरों ने सांप पकड़ने के प्रयास किए, लेकिन ग्रामीणों ने उन्हें गांव से बाहर खदेड़ दिया. क्षेत्र के लोगों का मानना है कि  सपेरे इन सांपों को पकड़कर अपना व्यवसाय करेंगे, जो उन्हें मंजूर नहीं है.

छत्तीसगढ़ में रायगढ़ ज़िला मुख्यालय से 20 किलोमीटर दूर पुसौर विकासखंड क्षेत्र में स्थित गांव सोडेकेला एक ऐसा नागलोक है, जहां बारिश की बूंदें प़डते ही गांव के  अंदर ही नहीं, बल्कि हर घर में नाग विचरण करने लगता है. ग़ौरतलब है कि ज़िले के  इस क्षेत्र में सर्वाधिक नाग व अन्य ज़हरीले सांप पाए जाते हैं. ग्रामीणों के  अनुसार यहां कोई भी सांप से नहीं डरता और बच्चे भी उन्हें अपना साथी ही समझते हैं.

ग्रामीणों का मानना है कि इस क्षेत्र पर भगवान शिव की विशेष कृपा है. यही कारण है कि आजकल अन्य क्षेत्रों में जहां नाग के दर्शन  दुर्लभ हो गए हैं, वहीं इस क्षेत्र में भारी संख्या में नाग रहते हैं. ग्रामीण इन्हें अपना इष्ट देवता मानते हैं. बारिश की बूंदों के  साथ जब ये बाहर निकलते हैं, तो ग्रामीण इनकी पूजा करके इन्हें दूध पिलाते हैं. क्षेत्र के कई ग्रामीण इसे आस्था का प्रतीक मानते हैं, तो कई दोस्ताना संबंध.

सोडेकेला निवासी लोचन साव का कहना है कि पड़ोसी गांव में भी भारी मात्रा में नाग और अन्य  सांप थे, लेकिन ग्रामीणों द्वारा उनको नुकसान पहुंचाने से वहां संख्या कम हो गई. हेमसागर साव व पुनीराम सारथी का कहना है कि ज़िले में इस क्षेत्र में सर्वाधिक सांप पाए जाते हैं. ग्रामीण इसे आस्था का रूप मानते हैं और यही कारण है कि वे किसी को नुकसान नहीं पहुंचाते. अन्य ग्रामीणों का भी कहना है कि दुर्लभ प्रजाति के नाग इस क्षेत्र में मौजूद हैं, जिन्हें वे भगवान शिव का रूप मानते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Input your search keywords and press Enter.