Now Reading:
देवरिया कांड: लड़कियों ने किया एक और चौंकाने वाला खुलासा
Full Article 3 minutes read

देवरिया कांड: लड़कियों ने किया एक और चौंकाने वाला खुलासा

मुजफ्फरपुर के बाद देवरिया के शेल्टर होम की सच्चाई ने यूपी ही नहीं, बल्कि पूरे देश को हिला कर रख दिया. शर्मसार कर देने वाले इस कांड में एक और बड़ा खुलासा हुआ है. छुड़ाई गई लड़कियों का आरोप है कि जो 18 लड़कियां गायब हैं उनमें से एक की मौत हो चुकी है, जबकि तीन लड़कियों को विदेशी नागरिकों को बेच दिया गया है. इस बीच जांच के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ के आदेश पर महिला एवं बाल विकास सचिव रेणुका कुमार देवरिया पहुंची हैं.

पिछले नवंबर में स्पेन से चार विदेशी, जिसमें दो महिला और दो पुरुष शामिल थे, वे शेल्टर होम में आए थे. बाद में वो विदेशी यहां से एक नाबालिग बच्चा और तीन लड़कियों को अपने साथ ले गए. उन लड़कियों का आज तक कुछ पता नहीं चल सका है. लड़कियों ने यह भी बताया कि यहां से हर रोज रात को चार-पांच लड़कियां बाहर भेजी जाती हैं. दो महीने पहले एक लड़की को रात को भेजा गया था, वह अब भी लापता है.

साथ ही लड़कियों ने यह भी बताया कि शेल्टर होम में रात को अक्सर जिले के बड़े अधिकारी आते रहते थे, जिसमें पूर्व में यहां रह चुके पुलिस के एक आला अधिकारी का नाम खासा चर्चा में है. एक बच्ची ने जब उन पुलिस अधिकारी का फोटो मोबाइल में देखा तो पहचान लिया और कहा कि यह अंकल तो अक्सर रात को आते थे और यहीं रुक जाते थे.

शेल्टर होम की संचालिका गिरिजा देवी पर आरोप लगाते हुए लड़कियों ने कहा कि गिरिजा देवी हमसे कभी अपने घर में तो कभी दूसरों के घर में काम करवाती थीं और बालिका गृह में हमें घटिया खाना दिया जाता था. इतना ही नहीं हमें ताले में बंद करके रखा जाता था. कई बार हमसे कोई मिलने आता था तो उन्हें मिलने नहीं दिया जाता था.

बता दें कि रविवार को देवरिया जिले के विंध्यवासिनी शेल्टर होम से भागकर थाने पहुंची एक बच्ची ने अंदर की सारी गतिविधियों के बारे में पुलिस को बताया था. इसके बाद प्रशासनिक महकमे में हडकंप मच गई थी. पुलिस ने 24 लड़कियों को बचाया और करीब 18 अभी भी लापता हैं. इसके अलावा शेल्टर होम की संचालिका गिरिजा त्रिपाठी और उनके पति को भी गिरफ्तार कर लिया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Input your search keywords and press Enter.