Now Reading:
सोनिया गांधी को कांग्रेसी नेता ने भरी सभा में दिया था कॉम्‍प्‍लीमेंट, शर्म से हो गई थीं लाल

सोनिया गांधी को कांग्रेसी नेता ने भरी सभा में दिया था कॉम्‍प्‍लीमेंट, शर्म से हो गई थीं लाल

soniya gandhi smiles on karan singh compliment

soniya gandhi smiles on karan singh compliment

कांग्रेस की पूर्व अध्‍यक्ष सोनिया गांधी की जिंदगी कई रोमांचक उतार-चढ़ावों से भरी हुई है. पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी से शादी होते ही उनकी जिंदगी में कई चाहे-अनचाहे रंग घुले. लेकिन बकौल सोनिया गांधी पूरी जिंदगी में सबसे कीमती और अनमोल चीज जो रही है, वो है उनका और राजीव जी का प्‍यार. आज हम यहां बता रहे हैं, उनकी शादी से जुड़ा एक किस्‍सा जो सालों बाद एक कार्यक्रम में जब दोहराया गया तो एक वरिष्‍ठ कांग्रेसी नेता सोनिया गांधी को कॉम्‍प्‍लीमेंट देने से खुद को रोक नहीं पाए और उसे सुनकर 68 साल की सोनिया गांधी खुद को शर्म से लाल होने से नहीं रोक पाईं.

यह भी पढें : सेना अध्यक्ष बिपिन रावत ने दिया एक और विवादित बयान, इस बार महिलाओं पर निशाना

बात है मई 2016 की. जब पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के पर्सनल फिजीशियन रहे डॉ. के.पी.माथुर की लिखी किताब ‘द अनसीन इंदिरा गांधी’  के विमोचन कार्यक्रम का. इस मौके पर तत्‍कालीन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और कर्ण सिंह भी मौजूद थे. इस मौके पर लेखक डॉ.माथुर, दिल्‍ली की पूर्व मुख्‍यमंत्री शीला दीक्षित ने इंदिरा गांधी से जुड़े कई किस्‍से सुनाए.

कर्ण सिंह के किस्से पर जब सोनिया शर्माकर बोलीं, अरे नहीं, अरे नहीं…  

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कर्ण सिंह ने इंदिरा गांधी और सोनिया गांधी के रिश्तों की खूबसूरती को बयान किया. तभी उन्‍होंने कहा कि इंदिराजी को कश्मीर बहुत पसंद था. वो अक्सर वहां जाती थीं. सोनिया उनके किस्सों को सुनकर हामी भर रहीं थीं. अचानक कर्ण सिंह ने कहा कि सोनिया की शादी का भी किस्सा याद आता है. जब वो पहली बार कश्मीर आईं थी और जो कपड़े पहने थे,  उनमें वो  बिल्कुल कश्मीरी पंडित लग रहीं थीं. उनका ये बोलना था कि सुर्ख लाल साड़ी पहने बैठीं 68 साल की सोनिया शरमा गईं. वो हंसते हुए बीच में ही बोल पड़ीं कि अरे नहीं, अरे नहीं, अरे नहीं… पर कर्ण सिंह नहीं रुके और कहा कि नहीं सोनियाजी मैं सही कह रहा हूं, आप लग रहीं थीं.

गौरतलब है कि इस किताब में लेखक डॉक्टर माथुर ने इंदिरा के व्यक्तित्व का डिक्टेटर वाला रूप पीछे छोड़कर उनके व्यक्तित्व के मजाकिया, लगाव, ख्याल रखने वाली महिला के पहलू को सामने किया है. इस किताब के विमोचन पर पूरे समय सोनिया अलग ही अंदाज में नजर आईं थीं.

यह भी पढें : क्या ‘चाउर वाले बाबा’ कोर्ट में भी खाएंगे पटखनी?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Input your search keywords and press Enter.