Now Reading:
गूगल से ऐसे साफ़ कर सकते हैं सर्च हिस्ट्री

गूगल से ऐसे साफ़ कर सकते हैं सर्च हिस्ट्री

gadgets-story-google-my-account-hindi-news

gadgets-story-google-my-account-hindi-news

भारत में लगभग 40 करोड़ लोग स्मार्टफोन इस्तेमाल करते हैं और न जाने कितने लोग हरदिन कंप्यूटर चलाते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं गूगल आपकी पूरी जानकारी को एक जगह एकट्ठा करता है जिसे आप जब चाहें देख सकते हैं और उसमें बदलाव भी कर सकते हैं। डाटा सुरक्षा के लिए ‘माय अकाउंट’ से यूजर अपनी सर्च हिस्ट्री को हमेशा के लिए डिलीट भी कर सकते हैं। आइए जानते हैं इसके बारे में।

गूगल की दुनिया में यूजर को ‘माय अकाउंट’ देखने के लिए पहले क्रोम ब्राउजर में जीमेल अकाउंट लॉगइन करना होगा। इसके बाद जीमेल में दाईं तरफ दिए गए, फोटो वाले आइकन पर क्लिक करें। ऐसा करने से कंप्यूटर स्क्रीन पर माय अकाउंट नाम की एक पूरी वेबसाइट खुल जाएगी। यहां सिक्योरिटी चेक, फोन लोकेशन, अकाउंट रिकवरी विकल्प और माय एक्टिविटी जैसे विकल्प दिए हैं। यहां तक कि आखिरी बार जब पासवर्ड बदला था उसकी तारीख भी इसमें देखी जा सकती है।

सबसे पहले बात करते हैं साइन इन और सिक्योरिटी विकल्प की। इसकी मदद से यूजर देख सकते हैं कि उनका जीमेल अकाउंट किन-किन डिवाइसों में साइन इन यानी इस्तेमाल हो रहा है। इसमें यूजर उन एप को देख सकते हैं जो उनके अकाउंट को एक्सेस कर रहे हैं। इसके लिए Apps with account access विकल्प पर क्लिक करना होगा। इसके बाद उन एप की सूची आ जाएगी। इस सूची में से जिन्हें हटाना चाहते हैं उसके लिए अंग्रेजी में लिखे ‘मैनेज एप्स’ पर क्लिक करें और जिन एप को हटाना चाहते हैं उन पर क्लिक कर दें। इसके बाद रिमूव का विकल्प आ जाएगा।

इसमें उन एप की संख्या दी जाती है जिनकी जानकारी इस्तेमाल करके गूगल यूजर के अनुभव को बेहतर बनाता है। यूजर चाहे तो इन्हें बंद भी कर सकते हैं। यहां कंट्रोल कंटेंट में जाकर उन एप की सूची देख सकते हैं जिनका इस्तेमाल गूगल यूजर के अनुभव को बेहतर बनाने के लिए करता है। इसमें दूसरा सबसे महत्वपूर्ण विकल्प ‘माय एक्टिविटी’ है। इस विकल्प से आप अपनी सर्च हिस्ट्री को हमेशा के लिए डिलीट कर सकते हैं। गौर करने वाली बात यह है कि ‘माय एक्टिविटी’ सिर्फ ब्राउजर की सर्च हिस्ट्री नहीं दिखाता है बल्कि यूट्यूब पर की गई सर्चिंग भी दिखाता है।

इसकी मदद से यूजर अकाउंट, स्टोरेज, भाषा और गूगल ड्राइव संबंधित जानकारी में बदलाव कर सकते हंै। यहां तक कि जरूरत पड़ने पर अकाउंट और सेवाओं को भी डिलीट किया जा सकता है। इस सेक्शन में किसी भी विकल्प में बदलाव करने के लिए जीमेल पासवर्ड दोबारा डालना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Input your search keywords and press Enter.