Now Reading:
उफ! शहीदों को श्रद्धांजली देने ये क्‍या कर लिया इस एमबीए पास युवक ने

उफ! शहीदों को श्रद्धांजली देने ये क्‍या कर लिया इस एमबीए पास युवक ने

kargil martyrs names on body

kargil martyrs names on body

शहीदों के प्रति मन में सम्‍मान हर देशवासी के दिल में होता है. इन भावनाओं को लोग कई तरह से बयान करते हैं. लेकिन उत्‍तरप्रदेश के एक एमबीए पास युवा ने शहीदों को श्रद्धांजली देने के लिए अनूठा तरीका अपनाया है. इस युवक का नाम पंडित अभिषेक गौतम है. अभिषेक यूपी के हापुड़ में रहते हैं.

इस काम के लिए अभिषेक ने टैंटू को जरिया बनाया है. उन्‍होंने अपने शरीर पर कारगिल में शहीद हुए 580 जवानों के नाम गुदवाए हैं. इसके अलावा उन्होंने इंडिया गेट, शहीद स्मारक, स्वतंत्रता सेनानियों समेत 11 महान हस्तियों के चित्र भी अपने शरीर पर गुदवाए हैं. बकौल अभिषेक इस काम से मुझे संतुष्टि मिली है. मेरी तरफ से देश की रक्षा में अपनी जान देने वाले शहीदों के लिए ये श्रद्धांजली है. अभिषेक के इस काम की लोगों ने भी बहुत सराहना की है और उन्हें अब लोग चलता-फिरता वॉर मेमोरियल कहने लगे हैं. अभिषेक का कहना है कि अब मेरा अगला लक्ष्‍य इन सभी शहीद जवानों के परिवार वालों से मिलना है. इस काम की शुरूआत भी कर दी है और अब तक आधा दर्जन परिवारों से मिल भी चुका हूं. इन परिवारों ने भी मेरे काम को बहुत सराहा है.

कारगिल दिवस से की थी इस काम की शुरूआत

अभिषेक ने 26 जुलाई यानि कारगिल दिवस से इस मुहिम पर काम करना शुरु किया था. अपने शरीर पर शहीद जवानों के नाम गुदवाने से शुरूआत हुई और लगातार 14 दिन यह प्रक्रिया चली तब जाकर यह मिशन पूरा हुआ. नाम गुदवाने के अलावा झांसी की रानी लक्ष्मीबाई, भगतसिंह, चंद्रशेखर आजाद, महाराणा प्रताप, महात्मा गांधी, सुभाषचंद्र बोस, शिवाजी, चाणक्य, पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम आजाद आदि के चित्र भी उन्‍होंने अपने शरीर पर बनवाए हैं.

इस काम में अभिषेक ने एक महीने की सैलरी लगा दी. हालांकि उनके दोस्‍तों, फैमिली और डॉक्‍टर्स ने उन्‍हें ऐसा करने से मना किया था लेकिन बाद में उनका जुनून देखकर सभी ने उन्‍हें सपोर्ट किया.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Input your search keywords and press Enter.