Now Reading:
ये एक कप सूप आपको रखेगा सर्दियों में चुस्त

ये एक कप सूप आपको रखेगा सर्दियों में चुस्त

sweet corn soup

vegetable soup

देशभर में ठंड ने पांव पसार लिया है और सर्द हवाओं का असर देखा जा रहा है. सर्दी के मौसम में बार बार भूख लगने पर कुछ न कुछ खाने का मन करता है. ऐसी स्थिति में कुछ भी खाने से बचना जरूरी है नहीं तो वजन बढ़ने का खतरा भी रहता है. इस स्थिति में सूप बेस्‍ट डिश है जो न सिर्फ सर्दियों में वजन बढ़ने से रोकता है बल्कि सर्दी, जुकाम, वायरल जैसी संक्रामक बीमारियों से भी बचाव करता है. साथ ही इसमें मौजूद पोषक तत्‍व बीमारियों से लड़ने के लिए इम्‍यूनिटी और मेटाबॉलिज्‍म को मजबूत बनाने में मदद करता है.

सूप बॉडी को डिटॉक्‍स और हाइड्रेट करने में सहयोग करता है साथ इससे वजन भी कंट्रोल में रहता है और स्किन ग्‍लो करने लगती है. सर्दियों में हमें कौन कौन सा सूप पीना चाहिए और इससे क्‍या फायदे हैं यहां जानते हैं.

मटर का सूप : फाइबर से भरपूर मटर का सूप पीने से पेट लंबे समय तक भरा रहता है जिससे वजन कम करने में मदद मिलती है. मटर के सूप में पोटेशियम हमारी बंद नसों को खोल ब्‍लड सर्कुलेशन बनाए रखने में मदद करता है जिससे ब्‍लड प्रेशर और हार्ट की बीमारी में बहुत फायदेमंद है. मटर में विटामिन के हड्डियों को मजबूत बनाता है. एंटी इंफ्लेमेटरी तत्‍वों के कारण आर्थराइटिस और अल्‍जाइमर के रोगियों के लिए बेहद फायदेमंद होता है.

green peas soup

इसे भी जरूर पढ़ें : ऐसे खाएंगे पालक तो शरीर को मिलेगा दोगुना फायदा

पालक का सूप : हमलोग जानते हैं कि पालक में आयरन काफी मात्रा में पाया जाता है. साथ ही साथ इसमें मिनरल्‍स, विटामिन और दूसरे कई न्‍यूट्रीएंटस से भरपूर एक सुपर फूड भी हैा पालक में भी विटामिन ए, सी, ई, के और बी बॉम्‍प्‍लेक्‍स भरपूर मात्रा में पाया जाता है. पालक में मैगनीज, कैरोटीन, आयरन, आयोडीन, कैल्शियम, मैग्‍नीशियम, पोटैशियम, सोडियम, फॉस्‍फोरस और अमीनो एसिड प्रचुर मात्रा में पाया जाता है. जो स्किन और बाल को स्‍वस्‍थ्‍य रखने में मदद करता है.

spinach soup

स्‍वीट कॉर्न सूप : जिन लोगों में अस्‍थमा या लंग्‍स से रिलेटेड कोई समस्‍या है तो उनके लिए ये सूप बहुत ही सेहतमंद होता है. न्‍यूट्रीएंटस और एंटी ऑक्‍सीडेंटस तत्‍वों से भरपूर यह सूप सर्दियों में होने वाले हार्ट आर्टरीज की ब्‍लॉकेज को खोलने में मदद करता है. साथ ही हार्ट अटैक के खतरे को कम करता है. स्‍वीट कोर्न सूप में बीटा कैरोटीन सर्दियों में होने वाले स्‍मॉग व प्रदूषण से आपकी आंखों की सुरक्षा करने के साथ ही लंग्‍स को स्‍वस्‍थ रखने में मदद करता है. रोजाना एक कप स्‍वीट कॉर्न सूप पीने से सर्दियों में अस्‍थमा से होने वाली समस्‍या को कम करता है. स्‍वीट कॉर्न सूप पीने स्‍ट्रेस कम करने में मदद करता है.

sweet corn soup

इसे भी जरूर पढ़ें : अदरक इन लोगों को भूलकर भी नहीं खाना चाहिए, हो सकती है जानलेवा

टमाटर सूप : विटामिन सी और ए से भरपूर होने के कारण बैड कोलेस्‍ट्रॉल को कम करता है जिससे हार्ट ब्‍लॉकेज को दूर करता है. यह फैट को कम करने में बहुत मदद करता है. इसमें मौजूद सेलेनियम बॉडी में ब्‍लड की समस्‍या को दूर करता है.

tomato soup

मशरुम का सूप : मशरुप सूप में सेलेनियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है. सेलेनियम बॉडी को डिटॉक्‍स करने के साथ ही नर्वस सिस्‍टम को कंट्रोल कर ब्‍लड प्रेशर को भी नियंत्रित करता है. मशरुम में फोलिक एसिड होता है जो त्‍वचा के लिए काफी फायदेमंद है और व्‍हाइट ब्‍लड सेल्‍स को बनाता है जिससे इम्‍यून सिस्‍टम को मजबूत बनाता है. मशरुम में विटामिन डी होता है जो हडडियों के लिए बहुत जरूरी होता है. इसमें कार्बोहाइड्रेटस की मात्रा कम होने के कारण वजन और ब्‍लड शुगर का लेवल को नियंत्रित रखता है.

mushroom soup

इसे भी जरूर पढ़ें : सावधान! एक कैंसर दूसरे कैंसर का कारण बन सकता है

गाजर का सूप : गाजर में एंटी ऑक्‍सीडेंट और विटामिन ए की भरपूर मात्रा होती है. जो चेहरे की त्‍वचा और स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत फायदेमंद होता है. गाजर का सूप त्‍वचा को नम रखने के साथ साथ मुंहासे, धब्‍बे और त्‍वचा का बचाव करती है. इसके अलावा गाजर स्किन को स्‍वस्‍थ, चमकदार बनाता है.

carrot soup

कद्दू का सूप : कददू का सूप हमारे सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है. क्‍योंकि इसमें मैग्‍नीशियम भपपूर मात्रा में पाया जाता है. इसलिए प्रतिदिन इसके सेवन करने से दिल से जुड़ी समस्‍या से छुटकारा पा सकते हैं. इसमें एंटीऑक्‍सीडेंट के गुण होने के कारण इसका सेवन मेटाबॉलिज्‍म को दुरूस्‍त रखता है. साथ ही साथ इसके प्रतिदिन सेवन से बुखार, थकावट या सिरदर्द की समस्‍या में आराम मिलता है. कददू के सूप में आयरन और वसा के गुण काफी मात्रा में होता है जो शरीर में खून की कमी को दूर करता है और हमें कई बीमारियों से बचाता भी है.

pumpkin soup

इसे भी जरूर पढ़ें : नाखून का रंग बदलते ही हो जाएं सावधान, गंभीर बीमारियों का है संकेत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Input your search keywords and press Enter.