Now Reading:
71 साल के इंतज़ार के बाद ऑस्ट्रेलिया में भारत की ऐस्तिहसिक जीत

71 साल के इंतज़ार के बाद ऑस्ट्रेलिया में भारत की ऐस्तिहसिक जीत

team-india

victorious-indian-team

आज से 71 साल kकिसी भारतीय क्रिकेट टीम ने ऑस्ट्रेलिया का पहला दौरा किया था. इन 71 सालों में भारतीय क्रिकेट टीम ने कई बार ऑस्ट्रेलिया का दौरा किया लेकिन हर बार नाकामी हाथ लगी. यदि सीरिज ड्रा करा ली तो उसे बड़ी उपलब्धि माना गया. आज 71 साल बाद विराट कोहली की भारतीय टीम ने वो कारनामा कर दिखया जो आज तक किसी भी एशियाई टीम से न हो सका था. dदरअसल, भारत दुनिया का पांचवा टेस्ट प्लेयिंग देश बन गया है जिसने ऑस्ट्रेलिया में सेरिज जीती हो. इससे पहले इंगलैंड, वेस्ट इंडीज, न्यूज़ीलैण्ड और दिक्षिण अफ्रीका यह कमाल दिखा चुके हैं.

हालांकि सिडनी टेस्ट में चौथे दिन तक के खेल को देखते हुए यह लग रहा था की भारत यह सीरिज 3-1 से जीत जाएगा, लेकिन इंद्र भगवान ऑस्ट्रेलिया पर एक बार फिर मेहरबान हो गए और सिडनी टेस्ट में हार का खतरा टाल दिया. हालांकि यह पहला मौक़ा नहीं था जब बारिश ने भारत का खेल बिगाड़ा हो. इससे पहले भी कई मौक़ों पर बारिश भारत और जीत के बीच में दीवार बन कर खड़ी हुई है.

यदि पर्थ टेस्ट के दो तीन सेशन को छोड़ दिया जाये जिसमें भारत का प्रदर्श ठीक नहीं रहा, तो विराट कोहली की टीम ने मौजूदा ऑस्ट्रेलियाई टीम को हर मैदान में धूल चटाया.

सिडनी टेस्ट के चौथे दिन का खेल जब समाप्त हुआ तो ऑस्ट्रेलिया ने पहले पारी के 322 रनों से पिछड़ने के बाद ने फॉलो-ऑन करते हुए बिना किसी विकेट के नुकसान पर 6 रन बना लिए थे. काम रौशनी के कारण चौथे दिन खेल में महज़ 25.2 ओवर डाले जा सके थे. मैच के आखिरी दिन आज एक ओवर का खेल भी संभव नहीं हो सका और चायकाल से पहले अंपायरों ने मैच को ड्रा घोषित कर दिया.

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन ने भारतीय टीम की प्रसंशा करते हुए कहा कि “भारतीय टीम की जितनी तारीफ की जाए काम है. जब हम भारत में खेलते हैं तो हमें मालूम होता है कि वहां चीज़ें कितनी कठिन होती हैं, लिहाज़ा विदेश कंडीशन में जीत हासिल करने के लिए बहुत मुशक्कत करनी पड़ती है. में विराट (कोहली), रवि (शास्त्री) और उनकी टीम को बधाई देते हैं.

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने कहा कि आखरी दो टेस्ट में हमारा प्रदर्शन खराब रहा. एडिलेड टेस्ट में हमें मौके मिले थे लेकिन भारत ने मैच के नाज़ुक मोड़ पर अच्छा प्रदर्शन कर हम से वो मैच छीन लिया. पर्थ में हमने अच्छा क्रिकेट खेला लेकिन मेलबोर्न और सिडनी में भारत ने हमें हर क्षेत्र में पटखनी दे दी.

भारत की ओर से सबसे अधिक रन चेतेश्वर पुजारा ने बनाये. उन्होंने चार मैचों में 521 रन बनाये. वहीँ विकेटकीपर बल्लेबाज़ ऋषभ पंत ने 350 रन बनाये, जबकि विराट कोहली ने 282 रन बनाये. भारत की ओर से जसप्रीत बुम्रा ने सबसे अधिक 21 विकेट और मुहम्मद शमी ने 16 विकेट चटकाये.

चेतेश्वर पुजारा को मैन ऑफ द सीरिज घोषित किया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Input your search keywords and press Enter.