Now Reading:
मीसा के बहाने लालू परिवार में फिर छिड़ा सत्ता का संघर्ष

मीसा के बहाने लालू परिवार में फिर छिड़ा सत्ता का संघर्ष

Lalu's-Family-feud

Lalus-Family-feud"

तेजप्रताप यादव                         मिसा भारती                                  भाई वीरेंद्र

नए साल में भी लालू परिवार से विवादों का अंत होता नहीं दिख रहा है. ताजा मामल पाटलिपुत्र सीट को लेकर है. विवाद इस बात है की इस सीट से लोकसभा चुनाव कौन लड़ेगा.

सबको चौंकाते हुए तेजप्रताप यादव ने ऐलान कर दिया कि इस सीट से उनकी बड़ी बहन मीसा भारती ही चुनाव लड़ेंगी. भाई बीरेंद्र की दावेदारी पर उन्होंने कहा कि उनकी कोई औकात नहीं है और यहां से केवल और केवल मीसा भारती ही लड़ेंगी.

गौरतलब है कि पिछला चुनाव भी मीसा भारती ने पाटलिपुत्र सीट से ही लड़ा था पर रामकृपाल यादव से चालीस हजार वोटों से हार गई थीं. इसके बावजूद मीसा भारती क्षेत्र में सक्रिय रह रही हैं.

अपने ऐलान के बाद तेजप्रताप यादव ने मनेर जाकर मीसा भारती के लिए प्रचार भी कर डाला. तेजप्रताप के इस ऐलान पर तेजस्वी यादव ने कहा कि सीटों पर अंतिम फैसला लालू प्रसाद को ही करना है. कौन क्या बोल रहा है उसका कोई अर्थ अभी नहीं है.

दूसरी  ओर भाई वीरेंद्र ने भी कहा कि मेरे नेता लालू प्रसाद हैं. हम सभी राजद के कार्यकर्ता उनकी ही बात मानते हैं. लालू  प्रसाद का जो आदेश होगा वह मेरे लिए मान्य होगा. अगर उनका आदेश होगा तो मैं पाटलिपुत्र से चुनाव भी लड़ सकता हूं. लेकिन जो होगा लालू प्रसाद के आदेश से ही होगा.

जानकार इस पूरे घटनाक्रम को लालू परिवार में छिड़े सत्ता संघर्ष से जोड़कर देख रहे हैं. लालू प्रसाद को अगर जमानत मिल गई तो फिर हालात नियंत्रण में रहेंगे लेकिन अगर वह बाहर नहीं आए तो इस संघर्ष के और भी तेज होने से इनकार नहीं किया जा सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Input your search keywords and press Enter.