Chauthi Duniya

Now Reading:
ऑस्ट्रेलिया ओपन में जोकोविच और नडाल के बीच रोमांचक मुकाबले की उम्मीद

ऑस्ट्रेलिया ओपन में जोकोविच और नडाल के बीच रोमांचक मुकाबले की उम्मीद

मेलबर्न: जोकोविच और नडाल के बीच फाइनल मुकाबले का इंतजार कर रहे खेल प्रेमियों के लिए कल का फ़ाइनल बेशक रोमांच से भरपूर होगा, लोगों को उम्मीद है कि शायद पिछला मुकाबले (2012) जैसा यादगार मैच एकबार फिर उन्हें देखने को मिले । नोवाक जोकोविच और रफेल नडाल रविवार को यहां 107वें आस्ट्रेलिया ओपन टेनिस फाइनल के साथ आधुनिक युग की ‘बेजोड़ प्रतिद्वंद्विता’ को नए आयाम पर पहुंचाएंगे।

  • आस्ट्रेलिया ओपन में हाईवोल्टेज फ़ाइनल मैच- नडाल Vs जोकोविच   
  • नडाल और जोकोविच के बीच ये है 53 वां मुकाबला
  • नडाल के खिलाफ 27 बार जीत चुके हैं जोकोविच
  • लेकिन फिर भी फाइनल में नडाल का पलड़ा भारी  

दुनिया के इन दो शीर्ष खिलाड़ियों के नाम पर मिलाकर 31 ग्रैंडस्लैम खिताब दर्ज हैं और दोनों कल अपने खिताबों की संख्या में इजाफा करना चाहेंगे। जोकोविच अगर जीत दर्ज करते हैं जो वह रिकार्ड सातवीं बार नोर्मन ब्रूक्स ट्राफी को अपने हाथों में थामेंगे जबकि 32 साल के नडाल अगर 2009 के बाद मेलबर्न पार्क में दोबारा खिताब जीतते हैं तो ओपन युग में सभी चार ग्रैंडस्लैम को कम से कम दो-दो बार जीतने वाले पहले खिलाड़ी बन जाएंगे। नडाल का यह 18वां ग्रैंडस्लैम खिताब होगा और वह सर्वकालिक सर्वाधिक ग्रैंडस्लैम खिताबों की संख्या के मामले में रोजर फेडरर के 20 खिताब के करीब पहुंच जाएंगे। जोकोविच अगर खिताब अपने नाम करते हैं तो 15वें खिताब के साथ पीट सम्प्रास को पीछे छोड़कर सर्वाधिक ग्रैंडस्लैम खिताब की सूची में तीसरे स्थान पर पहंच जाएंगे। जोकोविच और नडाल के बीच यहां 53वां मुकाबला होगा जबकि ये दोनों खिलाड़ी आठवीं बार किसी ग्रैंडस्लैम फाइनल में आमने सामने होंगे।

दोनों खिलाड़ियों के बीच अब तक हुए मुकाबलों में जोकोविच ने 27 मैचों में जीत दर्ज की है जबकि नडाल ने 25 मैचों में बाजी मारी। ग्रैंडस्लैम फाइनल में हालांकि नडाल का पलड़ा भारी है जहां उन्होंने चार जीत दर्ज की जबकि तीन बार जोकोविच के खिलाफ उन्हें हार झेलनी पड़ी। नडाल हालांकि जोकोविच के खिलाफ पिछले तीन ग्रैंडस्लैम फाइनल जीतने में सफल रहे हैं। ग्रैंडस्लैम में सभी तरह के मुकाबलों में नडाल का जोकोविच पर पलड़ा भारी रहा है जहां उन्होंने नौ मैचों में जीत दर्ज की जबकि पांच में उन्हें हार का सामना करना पड़ा।

ओपन युग में कभी दो खिलाड़ियों के बीच इतने मुकाबले नहीं हुए और ना ही कभी इतने करीबी मैच देखने को मिले। दोनों के बीच आस्ट्रेलिया ओपन में खेला गया पिछला फाइनल 2012 में रिकार्ड पांच घंटे और 53 मिनट चला था। यह ग्रैंडस्लैम इतिहास का सबसे लंबा और कुछ लोगों की माने को सबसे शानदार फाइनल था।जोकोविच ने अंतिम सेट में 7-5 की जीत से खिताब अपने नाम किया लेकिन इसके बाद दोनों खिलाड़ी इतना थक गए थे कि पुरस्कार वितरण समारोह के दौरान खड़े होना भी मुश्किल हो गया था।

 

Input your search keywords and press Enter.