Chauthi Duniya

Now Reading:
गुजरातः पूर्व MLA जंयती भानुशाली की हत्या में बड़ा खुलासा, BJP नेता ने ही कराया मर्डर

गुजरातः पूर्व MLA जंयती भानुशाली की हत्या में बड़ा खुलासा, BJP नेता ने ही कराया मर्डर

Jayanti Bhanushali

अहमदाबाद :गुजरात बीजेपी के पूर्व विधायक जयंती भानुशाली की हत्या की गुत्थी गुजरात पुलिस ने सुलझा ली है. तफ्तीश में खुलासा हुआ है की हत्या की साजिश बीजेपी के दूसरे नेता छबील पटेल ने रची थी. बीजेपी नेता छबील पटेल ने ही सुपारी देकर भाड़े के हत्यारों से जयंती का मर्डर कराया है. गुजरात पुलिस ने इस हत्याकांड का खुलासा करते हुए बताया की दोनों नेताओं के बीच लंबे समय राजनीतिक रंजिश चली आ रही है. छबील को जब लगने लगा जयंती उनपर भारी पड़ सकता है. उसने इस साज़िश को अंजाम तक पहुंचा दिया. पुलिस ने इस संबंध में दो लोगों को गिरफ्तार भी किया है. हत्या की इस साजिश में पटेल के साथ मनीषा गोस्वामी नाम की एक महिला को भी गिरफ्तार किया है.

मनीषा गोस्वामी वही लड़की है, जिसने जंयती भानुशाली के खिलाफ बलात्कार का केस दर्ज कराया था. बाद में मनीषा ने पैसा लेकर गुजरात हाईकोर्ट में केस वापस ले लिया था. इस मामले में पहले ही जंयती भानुशाली के परिवार वालों ने उनकी हत्या के पीछे छबील पटेल पर शक जाहिर किया था. पहले छबील पटेल कांग्रेस के विधायक हुआ करते थे. बाद में वो बीजेपी में आ गए थे. जिसकी वजह से जंयती भानुशाली का कच्छ से टिकट कट गया था.

Jayanti Bhanushali and Chhabil Patel Jayanti Bhanushali (L) & Chhabil Patel (R)

Jayanti Bhanushali and Chhabil Patel

सीआईडी के डीआईजी अजय तोमर ने जानकारी देते हुए बताया कि जंयती भानुशाली की हत्या की साजिश बीजेपी नेता छबील पटेल और मनीषा गोस्वामी ने मिलकर रची थी. पुलिस ने बीजेपी नेता जंयती भानुशाली की हत्या के आरोप में सुपारी किलर जो एक फार्म हाउस में चौकीदार है और एक नौकर को गिरफ्तार किया है.

पुलिस ने बताया कि, हत्या की फुलप्रूफ प्लानिंग मनीषा गोस्वामी ने ही रची थी. मनीषा ने  महाराष्ट्र के पुणे के दो सुपारी किलर शंशीकांत कांबले और शेख अनवर को हत्या की सुपारी दी थी. दोनों शख्स जंयती भानुशाली के साथ ही ट्रेन में बैठे थे. उन्हें इस बात की जानकारी थी जयंती पटेल किस केबिन में सफर कर रहे हैं. सुपारी किलरों ने उनके केबिन का दरवाजा खटखटाया और जैसे ही जयंती पटेल ने दरवाजा खोला आरोपियों ने और भानुशाली के बीच हाथापाई होने लगी.

इस दौरान तीन राउन्ड मिसफायर हुए थे. इसके बाद जंयती भानुशाली को गोली लग गई. गोली मारने के बाद दोनों सुपारी किलर ट्रेन की चैनपुलिंग कर भाग खड़े हुए. उनका एक साथ पहले से ही कार से लेकर खड़ा था. पुलिस जांच में ये भी साफ हो गया कि छबील पटेल 2 जनवरी को अहमदाबाद से मस्कट जाने के लिए निकला था. जबकि मनीषा 3 जनवरी से 6 जनवरी तक भुज में ही इन लोगों के लिए सारे इंतजाम कर रही थी. पुलिस के मुताबिक जंयती की हत्या छबील पटेल के साथ रंजिश की वजह से ही अंजाम दी गई थी.

Input your search keywords and press Enter.