Now Reading:
‘ठाकरे’ vs ‘मणिकर्णिका’ की लड़ाई में शिवसेना ने रोका शो, कंगना के घर के बाहर हंगामा
Full Article 2 minutes read

‘ठाकरे’ vs ‘मणिकर्णिका’ की लड़ाई में शिवसेना ने रोका शो, कंगना के घर के बाहर हंगामा

Shivsena Protest against Manikarnika

मुंबई: आज बॉलीवुड की दो बड़ी फिल्में रिलीज़ हो रहीं हैं।बालासाहेब ठाकरे की बायोपिक ‘ठाकरे’ तो दूसरी है झांसी की रानी लक्ष्मीबाई पर बनी फिल्म ‘मणिकर्णिका’। फिल्म की रिलीज़ के साथ विवाद भी शुरू हो गया है।एक तरफ करनी सेना ने विरोध शुरू कर दिया है तो दूसरी तरफ शिवसेना थेयटर में फिल्म चलने नहीं दे रही है। महारष्ट्र के कई सिनेमाघरों में फिल्म मणिकर्णिका रोक दी गई है। मुंबई पुलिस ने कंगना के घर के बाहर से करनी सेना के कई कार्यकर्ताओं को अपनी हिरासत में लिया है।

Shivsena Protest against Manikarnika

Shivsena Protest against Manikarnika

फिल्म ‘मणिकर्णिका’ रिलीज होते ही वाशी के आईनॉक्स सिनेमा हॉल के बाहर शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने हंगामा शुरू कर दिया है। शिवसेना कार्यकर्ताओं ने मणिकर्णिका देखने आए लोगों के साथ मारपीट की और उन्हें सिनेमाघरों से भगा दिया। उनका आरोप था कि, जानबूझकर सिनेमा मालिक मणिकर्णिका को ज़्यादा जगह दे रहे हैं। यह हंगामा फिल्म ‘ठाकरे’ के पोस्टर न लगाएं जाने को लेकर किया गया। कार्यकर्ताओं ने हंगामा करते हुए सुबह के शो को रोक दिया। कार्यकर्ताओं का आरोप है कि बाकी फिल्मों के पोस्टर लगाए गए हैं तो ठाकरे के क्यों नहीं लगाए?

Shivsena Protest against Manikarnika

Shivsena Protest against Manikarnika

वहीँ शिवसेना कि तरफ से महाराष्ट्र के कई हिस्सों में बालासाहेब ठाकरे की बायोपिक ‘ठाकरे’ का फ्री शो दिखाया जा रहा है। वसई में भी शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने सुबह 8 बजे फिल्म का फ्री शो दिखाने के लिए सिनेमा हॉल के बाहर प्रदर्शन किया और मणिकर्णिका के पोस्टर पहाड़ डाले। कई सिनेमा घरों के बाहर शिवसेना कार्यकर्ता डोल नगाड़ों के साथ कार्यकर्ता बालासाहेब ठाकरे की बायोपिक ‘ठाकरे’ को देखने पहुंचे।

Input your search keywords and press Enter.