Chauthi Duniya

Now Reading:
मिनिमम इनकम गारंटी चुनावी जुमला नहीं- राहुल गांधी ने बताया इस तरह गरीबों के खाते में पहुंचेगा पैसा

मिनिमम इनकम गारंटी चुनावी जुमला नहीं- राहुल गांधी ने बताया इस तरह गरीबों के खाते में पहुंचेगा पैसा

लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस और बीजेपी के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर करारा हमला बोला. दिल्ली में कांग्रेस पार्टी के अल्पसंख्यक मोर्चा सम्मेलन को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि नरेंद्र मोदी डरपोक हैं और मेरे साथ चंद मिनट बहस भी नहीं कर सकते हैं.


इस सम्मेलन में उन्होंने अपने द्वारा किए गए मिनिमम इनकम गारंटी के बारे में भी बताया, और समझाया कि किस तरह वह इसे लागू करेंगे.राहुल गांधी ने बताया कि 2019 के चुनाव में जीत दर्ज करने के बाद जब केंद्र में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनेगी तो वह हर गरीब को मिनिमम इनकम की गारंटी देंगे. उन्होंने कहा कि इसके तहत देश के हर गरीब के बैंक खाते में आर्थिक मदद पहुंचाई जाएगी. राहुल ने कहा,’’ अगर नरेंद्र मोदी देश के 15 उद्योगपतियों के खाते में पैसा डाल सकता है तो हम भी हर गरीब के खाते में पैसा डाल सकते हैं.’’ राहुल ने कहा कि इसके लिए हम सिर्फ आपसे पूछेंगे कि क्या आप भारत के नागरिक हैं, क्या आप गरीब हैं. अगर हां, तो कांग्रेस पार्टी की सरकार आपके खाते में पैसा डालेगी.


आपको बतादें कि कि बीते दिनों राहुल गांधी के ऐलान के बाद न्यूनतम आय के मुद्दे पर बहस शुरू हो गई थी. क्योंकि अभी देश में कितने गरीब हैं, इसका कोई सटीक आंकड़ा उपलब्ध नहीं है. एक्सपर्ट्स की मानें तो ये स्कीम लागू हुई तो देश की जीडीपी का 4.9 फीसदी खर्च इस स्कीम पर आएगा.वहीं दूसरी तरफ राहुल गांधी ने पीएम मोदी को रोबोट बताते हुए कहा कि रिमोट कंट्रोल संघ के हाथ में है, संघ और मोहन भागवत नागपुर से मोदी सरकार चला रहे हैं यही नहीं वो सभी संवैधानिक संस्थाओं को भी नागपुर से ही हैंडल करना चाहते हैं. राहुल के तेवर देखकर लग रहा है कि ये मोदी के ही तरकस के तीर है जो राहुल चला रहे हैं, वैसे ये राजनीति है और इसमें जो बाजी मारता है, सिकंदर वही बनता है, इसलिए जनता जनार्दन के फैसले का इंतजार करना होगा क्योंकि सत्ता की चाभी उसीके हाथ है।

 

Input your search keywords and press Enter.