Now Reading:
जानें- खुफिया एजेंसी ‘रॉ’ में कैसे हो सकते हैं शामिल ? रॉ की हर जानकारी

जानें- खुफिया एजेंसी ‘रॉ’ में कैसे हो सकते हैं शामिल ? रॉ की हर जानकारी

विश्व के लगभग सभी देशों ने अपने देश की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम रखते हैं, सुरक्षा के दृष्टिकोण से सभी देशों की खुफिया एजेंसी होती है. भारत की खुफिया एजेंसी रॉ है. जिसकी फुल फॉर्म है ‘रिसर्च एंड एनालिसिस विंग’ है. अगर आप देश की सेवा करना चाहते हैं और रॉ एजेंट बनना चाहते हैं तो यहां जानें पूरी डिटेल्स.

ये भी पढ़ें  देश सेवा के लिए तैयार युवाओ के लिए CRPF में निकली बम्पर भर्ती, जानिए बेहद महत्वपूर्ण जानकारी

पहले आपको बता दें, जो लोग अपना नाम पाना चाहते हैं उनके लिए ये फील्ड नहीं है, क्योंकि यहां ऐेसे लोगों की जरूरत होती है, जो अपनी पहचान छिपाकर रखें. क्योंकि ये पूरी तरह से जासूसी का कार्य है.

कैसे होगी भर्ती

रॉ में शामिल होने के लिए कोई डायरेक्ट भर्ती नहीं होती है. इसमें शामिल होने से पहले आपको डिफेंस सेक्टर या फिर इंडियन सिविल डिपार्टमेंट में शामिल होना होगा. इन डिपॉर्टमेंट्स में अच्छा एक्सपीरियंस लेने के बाद और अच्छा करने के बाद आपको रॉ में भर्ती के लिए एक इंटरव्यू देना होगा. जिसमें पास होने के बाद आप रॉ में भर्ती के लिए योग्य माने जाएंगे.

ये भी पढ़ें  आखिर क्यों ? भारतीय ख़ुफ़िया एजेंसी अभिनंदन वर्धमान से करेगी कड़ाई से पूछताछ

रॉ एजेंट और इंटेलिजेंस ऑफिसर के पद में उच्च पद के उन अधिकारियों को विदेश- भारत में कार्य करने के लिए एक गुप्त एजेंट के रूप में नियुक्त करता है जो नेशनल लेवल की सर्विस में हो. साथ ही मुख्य रूप से रक्षा और सुरक्षा के दौरान मुख्य रूप से IPS ऑफिसर्स, इंटेलिजेंस ऑफिसर्स (आईबी ऑफिसर्स) और CID ऑफिसर्स रहे हों.

ये भी पढ़ें  कांग्रेस को जिताइए मुफ्त घर पाइए- मुंबईकरों से राहुल का वादा

रॉ डिपार्टमेंट आमतौर पर सिविल सर्विस डिपॉर्टमेंट और पुलिस डिपार्टमेंट से ही उम्मीदवार चुनते हैं.
बता दें, रॉ डिपार्टमेंट ने ग्रेजुएट लेवल पर भर्ती करना शुरू कर दिया है. अब विभिन्न विश्वविद्यालयों से भी छात्रों को चयनित करने की प्रक्रिया शुरु की गई है. यदि आप ग्रेजुएट के बाद रॉ में शामिल होना चाहते हैं तो आपके पास कुछ खास विशेषताएं होनी चाहिए. कंप्यूटर हैकिंग, स्पेशल वर्किंग स्किल्स, इंटरनेट में स्पीड और अनस्टारिंग आदि में आपको महारत हासिल होनी चाहिए.

वहीं उम्मीदवार की आयु सीमा 19 से 25 साल की होनी चाहिए. साथ ही शादीशुदा न हो.

ये भी पढ़ें  ओसामा बिन लादेन के बेटे हमजा का नाम वैश्विक प्रतिबंधित आतंकी की सूची में शामिल-UN 

आवेदन की जानकारी

रॉ की कोई वेबसाइट नहीं है, इसलिए उनका एजेंट बनने के लिए आवेदन करना कठिन है. हालांकि, उप क्षेत्र अधिकारी, कैबिनेट सचिवालय, भारत सरकार के रूप में विज्ञापित की गई नौकरियों को आर एंड ए के लिए भर्ती माना जाता है. रॉ में भर्ती होने से पहले आपको कुछ सर्टिफिकेट दिखान होंगे. जिसमें- पहचान पत्र, रोजगार डॉक्यूमेंट्स, करेक्टर सर्टिफिकेट, विवाह सर्टिफिकेट और बैंक जानकारी देनी होगी.

ये भी पढ़ें  अभिनन्दन की वापसी पर सिद्धू को बधाई, ओमन चांडी की हौसलाअफजाई पर लिखा ये शेर

क्या है सेलेक्शन प्रोसेस

लिखित परीक्षा, इंटरव्यू, मेडिकल टेस्ट, फिजिकल टॉलरेंस, फिजिकल स्टेमिना एंड मेडिकल स्टेंडर्ड टेस्ट के आधारि पर सेलेक्शन किया जाता है
रॉ में भर्ती के लिए बेसिक आवश्यकताएं: कोई भी क्राइम रिकॉर्ड नहीं होना चाहिए. उम्मीदवारों को ड्रग टेस्ट से गुजरना पड़ सकता है. अधिकांश एजेंट्स को विदेशों की यात्रा करनी पड़ती है, जिसके दौरान कई चुनौतियों को सामना करना पड़ता है. साथ ही उम्मीदवारों को विदेशी भाषा की जानकारी होनी चाहिए, ताकि दुश्मनों की बातें समझने में सक्षम हो. रॉ में भर्ती होने पहला उसूल है कि आप भर्ती के दौरान कुछ भी छिपाए नहीं.

ये भी पढ़ें  इमोशनल सीन के साथ पूरी होगी सलमान- कैटरीना की फिल्म ‘भारत’ की शूटिंग

Input your search keywords and press Enter.