fbpx
Now Reading:
कश्मीर में अब नहीं रहेगा अलग संविधान, लहराएगा तिरंगा, लोग खरीद सकेंगे संपत्ति
Full Article 2 minutes read

कश्मीर में अब नहीं रहेगा अलग संविधान, लहराएगा तिरंगा, लोग खरीद सकेंगे संपत्ति

जम्मू कश्मीर को लेकर गृहमंत्री अमित शाह के अनुच्छेद 370 को हटाने की सिफारिश के बाद राष्ट्रपति की तरफ से मंजूरी मिल गई है. यानी अब जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 पूरी तरह से हट जाएगा. जिसके बाद जम्मू कश्मीर के विशेष राज्य का दर्जा खत्म हो जाएगा, जम्मू-कश्मीर के नागरिकों की दोहरी नागरिकता खत्म हो जाएगी. अब जम्मू कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश होगा और लद्दाख भी अलग केंद्र शासित प्रदेश होगा.

  • जम्मू कश्मीर में अब नहीं होगी दोहरी नागरिकता
  • जम्मू कश्मीर में अब नहीं रहेगा अलग संविधान
  • जम्मू कश्मीर में अब अलग झंडा नहीं रहेगा
  • जम्मू कश्मीर में अब बाहरी लोग भी ले सकेंगे अपनी संपत्ति

जम्मू कश्मीर में भारत का ही झंडा फहराया जाएगा और संसद ही जम्मू-कश्मीर के लिए भी सुप्रीम होगा. भारत के अन्य राज्यों की तरह यहां भी भारत का ही संविधान लागू होगा यानी अब जम्मू कश्मीर के लिए अलग संविधान नहीं बचेगा बाहरी लोग जम्मू कश्मीर में अब संपत्ति खरीद सकेंगे.

आपको बता दें कि अनुच्छेद 370 अस्थाई प्रावधान था. जो हालात सामान्य होने तक के लिए जम्मू कश्मीर में लागू किया गया था. संविधान निर्माताओं ने यह कभी नहीं सोचा था कि आर्टिकल 370 में 35 एज ऐसा प्रावधान भी जोड़ा जाएगा. आर्टिकल 35a एक विधान, एक संविधान, एक राष्ट्रगान, एक निशान की भावना पर चोट करता था.

इसके अलावा आर्टिकल 35a को जम्मू कश्मीर के लोग भी पसंद नहीं करते थे क्योंकि आर्टिकल 35a नागरिकता के मौलिक अधिकार का भी हनन करता था. 1952 में नेहरू और शेख अब्दुल्ला के बीच दिल्ली में समझौता हुआ था जिसके तहत भारतीय नागरिकता जम्मू कश्मीर के राज्य के विशेष में लागू करने की बात कही गई थी. आर्टिकल 370 को हटाए जाने के बाद कम्मू कश्मीर में विकास की उम्मीद की जा रही है.

Input your search keywords and press Enter.