fbpx
Now Reading:
Jet Airway Crisis: जेट एयरवेज की डूबती नैय्या पर लगायेंगे हिंदुजा ब्रदर्स

Jet Airway Crisis: जेट एयरवेज की डूबती नैय्या पर लगायेंगे हिंदुजा ब्रदर्स

आर्थिक संकटों से घिरी जेट एयरवेज को बचाने की तमाम कोशिशें जारी हैं. एतिहाद एयरवेज और एसबीआई की अगुवाई वाले बैंकों का एक समूह जेट को फिर से शुरू करने के लिए प्रयासरत है. इसी कड़ी में एतिहाद और बैंक हिंदुजा बंधुओं से मुलाकात करने वाले हैं. हालांकि हिंदुजा ग्रुप जेट एयर वेज में निवेश करेगा या नहीं यह अभी तक साफ़ नहीं हो पाया है.

सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा है कि हाल ही में जेट एयरवेज को लेकर एतिहाद के अधिकारियों ने जब जीपी हिंदुजा से संपर्क किया था तो उन्होंने अपने छोटे भाई अशोक हिंदुजा से बात करने के लिए कहा. गौरतलब है कि अशोक हिंदुजा भारत में हिंदुजा ग्रुप का कामकाज देखते हैं. जेट एयरवेज मामले में हिंदुजा ब्रदर्स का नाम इसलिए भी आ रहा है क्योंकि साल 2001 में हिंदुजा ग्रुप एयर इंडिया को खरीदने की तैयारी में था लेकिन तब विनिवेश की प्रक्रिया फेल हो गई थी.

आपको बता दें कि हिंदुजा ग्रुप ऑटोमेटिव, तेल व केमिकल, मीडिया, आईटी, बिजली संयंत्र, स्वास्थ्य और रियल एस्टेट के कारोबार से जुड़ा हुआ है. हिंदुआ ब्रदर्स की गिनती ब्रिटेन के सबसे अमीर लोगों में की जाती है. अगर बात जीपी हिंदुजा और अशोक हिंदुजा की कुल संपत्ति की करें तो दोनों भाइयों की कुल संपंत्ति तक़रीबन 22 अरब पाउंड है.

गौरतलब है कि जेट को फिर से खड़ा करने के लिए 15 हजार करोड़ रुपये के निवेश की जरुरत है. जबकि एतिहाद जेट एयरवेज में केवल 24 फीसदी हिस्सेदारी के लिए 1700 करोड़ रुपये का ही निवेश करेगा. एतिहाद की तरफ से बैंको को जेट एयरवेज के 8500 करोड़ के कर्ज में 70-80 फीसदी कर्ज को माफ करने की बात कही गई है.

Input your search keywords and press Enter.