fbpx
Now Reading:
BHU प्रोफेसर फिरोज खान को लेकर मचा बवाल, जानिए वजह…
Full Article 2 minutes read

BHU प्रोफेसर फिरोज खान को लेकर मचा बवाल, जानिए वजह…

BHU Protest

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (BHU) के संस्कृत विभाग में तैनात असिस्टेंट प्रोफेसर फिरोज खान को लेकर छात्रों का धरना-प्रदर्शन जारी है. प्रदर्शनकारी छात्र उनकी नियुक्ति को रद्द करने की मांग कर रहे हैं. ऐसे में यह मुद्दा हिंदुत्व से जुड़ता जा रहा है. वहीं, BHU के संस्कृत विभाग में नियुक्ति पहले मुस्लिम प्रोफेसर फिरोज खान का सवाल है, ‘मैं एक मुस्लिम हूं, तो क्या मैं छात्रों को संस्कृत सिखा नहीं सकता. संस्कृत से मेरा खानदानी नाता है.’

एक रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने बताया कि संस्कृत से उनका खानदानी रिश्ता है. खान के मुताबिक उनके दादा गफूर खाम राजस्थान के रहने वाले थें और वो हिंदू देवी-देवताओं के भजन गाने के लिए मशहूर थे। खान के पिता भी संस्कृत की पढ़ाई की है.

इससे पहले BHU ने प्रोफेसर का बचाव करते हुए कहा था कि वह धर्म, जाति, समुदाय अथवा लैंगिक भेदभाव किए बिना हर व्यक्ति को समान अवसर उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है.BHU  का यह स्पष्टीकरण तब आया जब आरएसएस की छात्र शाखा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) ने फिरोज खान की नियुक्ति का विरोध करना शुरू किया. जो पिछले कई दिनों से लगातार जारी है.

BHU ने एक बयान में कहा था कि प्रशासन ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि चयन समिति ने विश्वविद्यालय अनुदान आयोग और केन्द्र सरकार द्वारा निर्धारित दिशानिर्देशों के अनुसार सर्वसम्मति से उक्त उम्मीदवार के चयन की अनुशंसा की है.

कुलपति राकेश भटनागर ने बीते  शुक्रवार को डॉ. फिरोज खान की नियुक्ति के विरोध में धरने पर बैठे छात्रों के एक प्रतिनिधिमंडल को आवास पर बुलाकर करीब दो घंटे चर्चा की.  इससे पहले  उन्होंने  संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय प्रमुख और संकाय के सभी विभागाध्यक्षों के साथ भी चर्चा की थी.

Input your search keywords and press Enter.