fbpx
Now Reading:
बिहार: गोपालगंज में ऑर्केस्ट्रा के दौरान खूनी हिंसक झड़प, दो बरातियों की पीट-पीट कर हत्या 20 से अधिक घायल
Full Article 3 minutes read

बिहार: गोपालगंज में ऑर्केस्ट्रा के दौरान खूनी हिंसक झड़प, दो बरातियों की पीट-पीट कर हत्या 20 से अधिक घायल

पटना से करीब दो सौ किलोमीटर दूर गोपालगंज जिले के मीरगंज थाने के मटिहानी नैन गांव में आयी एक बारात में बुधवार की अहले सुबह करीब दो बजे ऑर्केस्ट्रा के दौरान बरातियों एवं गांव वालों के बीच खूनी हिंसक झड़प हो गयी. इस हिंसक झड़प में गांव वालों ने दो बरातियों की पीट-पीट कर हत्या कर दी. वहीं, दर्जनभर से अधिक बरातियों को गंभीर रूप से जख्मी कर दिया. इस दौरान गांव वालों ने करीब आधा दर्जन फायरिंग भी की.

बराती इरशाद हुसैन ने बताया कि घटना की जानकारी देने के लिए झड़प के वक्त ही मीरगंज थाने पहुंच कर थानेदार से मदद की गुहार लगायी. इरशाद ने बताया कि मीरगंज थाने की पुलिस तथा थानाध्यक्ष ने एक नहीं सुनी तथा सुबह में आने की बात कही. मृत बरातियों में समस्तीपुर जिले के रेलवे कॉलोनी निवासी रविंद्र प्रसाद मंडल का 15 वर्षीय पुत्र अमरजीत कुमार और सोमू शर्मा शामिल है. गंभीर रूप से जख्मी आकाश कुमार रोशन कुमार, दीपू कुमार, अनुपम शर्मा तथा कृष्णा शर्मा को उपचार के लिए सदर अस्पताल सीवान में भर्ती कराया गया है.

Related Post:  राजधानी पटना में मॉब लिंचिंग, दीघा में भीड़ ने बच्चा चोर होने के शक में दो सिख युवकों को भीड़ ने पीटा

घटना के संबंध में दूल्हे के भाई रविंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि उसके भाई धर्मेंद्र कुमार शर्मा की बरात छपरा ब्रह्मपुर से मंगलवार को गोपालगंज जिले के मीरगंज थाने के मटिहानी ने निवासी सुदामा शर्मा के घर आयी थी. उसने बताया कि बरात समय से करीब नौ बजे लग गयी. बुधवार की अहले सुबह करीब डेढ़ बजे जब कन्या निरीक्षण का कार्यक्रम चल रहा था, उसी दौरान जनवासे से सूचना आयी कि ऑर्केस्ट्रा के दौरान गांव के कुछ युवक व्यवधान उत्पन्न कर रहे हैं. दूल्हे के बड़े पिताजी सूचना मिलने पर जनवासा पहुंचे तथा लोगों को समझा-बुझाकर मामले को शांत करा दिया. लेकिन, करीब दो बजे पुनः गांव वाले ऑर्केस्ट्रा में व्यवधान उत्पन्न करने लगे. विरोध करने पर गांववालों ने बरातियों की लाठी-डंडे तथा ईंट-पत्थर से पिटाई करने लगे. इस दौरान गांव वालों ने करीब आधा दर्जन फायरिंग भी की. गांव वालों ने इस दौरान दो लोगों को पीट-पीट कर अधमरा कर दिया तथा करीब दर्जनभर लोगों को गंभीर रूप से जख्मी कर दिया.

Related Post:  'साहो' का नया पोस्टर रिलीज, प्रभास और श्रद्धा कपूर के बीच दिखी लव केमिस्ट्री

रविंद्र शर्मा ने बताया कि गंभीर रूप से जख्मी दो लोगों को उपचार के लिए मीरगंज थाने के एक निजी डॉक्टर के पास ले जाया गया. लेकिन, डॉक्टर ने उपचार करने से मना करते हुए पुलिस को बुलाने की धमकी दी. डॉक्टर द्वारा उपचार नहीं किये जाने के बाद दोनों लोगों की मौत हो गयी. उसने बताया कि सुबह करब चार बजे घायलों तथा शवों को लेकर वे सीवान सदर अस्पताल पहुंचे. सीवान पुलिस ने घायल जयंत कुमार का बयान दर्ज कर दोनों शवों का पोस्टमार्टम कराया. घटना के संबंध में एसपी प्रभारी विनय तिवारी ने कहा है कि स्कॉर्पियो से सड़क हादसे के दौरान मौत हुई है. एसपी ने मामले की जांच के आदेश दिये हैं.

Related Post:  भोपाल में अस्पताल के बाहर फायरिंग, देखें कैसे CCTV में क़ैद हुई वारदात
Input your search keywords and press Enter.