fbpx
Now Reading:
श्रीदेवी के मर्डर की हर तरफ चर्चा, पति बोनी कपूर का आया ये बड़ा बयान
Full Article 3 minutes read

श्रीदेवी के मर्डर की हर तरफ चर्चा, पति बोनी कपूर का आया ये बड़ा बयान

बॉलीवुड की दिग्गज अभिनेत्री श्रीदेवी की मौत को लेकर हाल ही में केरल के जेल डीजीपी ऋषिराज सिंह ने एक चौंकाने वाला दावा किया। जिस वजह से हर तरफ सवाल और चर्चा का माहौल बन गया। डीजीपी के मुताबिक, अभिनेत्री श्रीदेवी की मौत बाथटब में डूबने की वजह से नहीं हुई बल्कि ये एक मर्डर है। हर तरफ इसी बात की चर्चा है कि आखिर ऐसा कैसे हो सकता है ? हालांकि डीजीपी ने ये दावा अपने दोस्त और फॉरेंसिंक सर्जन डॉ. उमादथन के हवाले से किया है, जिनका हाल ही में निधन हो चुका है। अब ऐसे में डीजीपी के इस दावे पर श्रीदेवी के पति और बॉलीवुड के जाने माने प्रोड्यूसर बोनी कपूर का भी बयान सामने आया है।

Related Post:  ब्रेक के बाद सोशल मीडिया पर दोबारा सक्रिय हुई प्रियंका चोपड़ा, फैंस से कहा- माफी चाहूंगी

डीजीपी के दावे पर बोनी कपूर का कहना है कि मैं ऐसी बकवास बातों पर कोई जवाब नहीं देना चाहता हूं। और वैसे भी ऐसी बातों पर कोई रिएक्शन नहीं दिया जाना चाहिए क्योंकि ऐस तरह की अनर्गल बातें आती ही रहेंगी, आप इन्हें आने से रोक नहीं सकते हैं। ये किसी की कल्पना का हिस्सामात्र है। बता दें पत्नी श्रीदेवी की मौत के बाद से बोनी काफी टूट गएहैं। वहीं अक्सर वो अपनी पत्नी श्री के लिए प्यार औरउन्हें याद करने की बातें करते रहते हैं। हाल ही में एक चैट शो के दौरान वो श्री को याद करते हुए काफी भावुक भी हो गए थे।

Related Post:  बिना फेसऐप यूज किए बूढ़ी लगी सोहा अली खान, सोशल मीडिया पर बन रहा मजाक

खबर के अनुसार, ऋषिराज सिंह ने कहा, ‘मैंने जिज्ञासावश अपने दोस्त डॉ. उमादथन से श्रीदेवी की मौत के बारे में पूछा था। लेकिन उनके जवाब ने मुझे झकझोर कर रख दिया। उसने बताया कि वह पूरे मामले को बहुत करीब से देख रहा था। मामले पर रिसर्च के दौरान उसने कई परिस्थितियां ऐसी बन रही थीं, जिनसे साफ हो रहा था यह एक एक्सिडेंट से हुई मौत नहीं थी। यहां तक उसके रिसर्च के दौरान कई सबूत उभरे थे, जिनसे श्रीदेवी की मौत के मर्डर होने के पूरी संभावना उभरती है।

Related Post:  सारा अली खान की अदाओं से घायल हुए कार्तिक, भाई इब्राहिम से दिखीं अलग बॉन्डिंग

गौरतलब है कि श्रीदेवी की मौत के बाद दुबई पुलिस ने लंबी पड़ताल की थी। लेकिन सबूतों के अभाव में उनकी मौत का असल कारण नहीं पता चल पाया था। तब उनकी मौत को महज एक्सिडेंट बता दिया गया था। इस बाबत करीब डेढ़ साल बाद डीजपी ऋषिराज सिंह के अपने दोस्त के हवाले से लिखे गए लेख से फिर विवाद बढ़ा है।

Input your search keywords and press Enter.