fbpx
Now Reading:
शारदा चिट फंड घोटाले में बढ़ी राजीव कुमार की मुश्किलें, सीबीआई ने जारी किया लुक आउट नोटिस

शारदा चिट फंड घोटाले में बढ़ी राजीव कुमार की मुश्किलें, सीबीआई ने जारी किया लुक आउट नोटिस

Ex Kolkata CP Rajeev Kumar

सीबीआई ने कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के खिलाफ शारदा चिट फंड घोटाले में लुक आउट नोटिस जारी किया है. ऐसे में अगर राजीव कुमार विदेश जाने की कोशिश करते हैं तो उनकी यात्रा से पहले सभी एयरपोर्ट अथॉरिटी सीबीआई को सूचित कर देंगे. 23 मई को जारी किया गया यह नोटिस एक साल तक प्रभावी रहेगा.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के करीबी राजीव कुमार पर शारदा चिटफंड और रोजवैली चिटफंड घोटाले की जांच के दौरान सबूतों से छेड़छाड़ का आरोप है. इस मामले में सीबीआई राजीव कुमार को पूछताछ करने के लिए गिरफ्तार करना चाहती है. लेकिन राजीव कुमार को 24 मई तक गिरफ्तारी से संरक्षण मिला हुआ था. गिरफ्तारी से छूट मिलने की अवधि बढ़ाए जाने के लिए राजीव कुमार सुप्रीम कोर्ट भी गए थे. जहां उन्हें तगड़ा झटका लगा था. सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें कोलकाता हाईकोर्ट जाने के लिए कहा था. लेकिन पश्चिम बंगाल में वकीलों की हड़ताल के चलते राजीव कुमार कलकत्ता हाईकोर्ट का रूख नहीं कर सके. सीबीआई राजीव कुमार को कभी भी गिरफ्तार कर सकती है. इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश के संभल में उनके पैतृक आवास पर पुलिस तैनात कर दी गई है. इसके साथ ही सुरक्षा एजेंसियां राजीव कुमार की तलाश में लग गई हैं.

Related Post:  सियासी आग में जल रहा है पश्चिम बंगाल, EC की बड़ी कार्रवाई, प्रधान और गृह सचिव की छुट्टी, प्रचार पर रोक

गौरतलब है कि शारदा चिटफंड और रोजवैली चिटफंड घोटाले की जांच के लिए साल 2013 में ममता सरकार ने एसआईटी का गठन किया था. जिसकी अगुवाई राजीव कुमार कर रहे थे. लेकिन बाद में इस मामले को सीबीआई के पास भेज दिया गया था. सीबीआई का दावा है कि केस ट्रांसफर होने के बाद भी राजीव कुमार ने कई अहम सबूत एजंसी को नहीं सौपें और उन्हें छिपाने की कोशिश की. हालांकि राजीव कुमार सेसीबीआई कई बार पूछताछ भी कर चुकी है, लेकिन उन पर सहयोग न करने का आरोप लगता रहा है.

Related Post:  ममता का हड़ताली डॉक्टर्स को अल्टीमेटम, कहा 4 घंटे में काम पर लौटें

वहीं बीते फ़रवरी कोलकाता में राजीव कुमार के ठिकाने पर छापेमारी करने पहुंची सीबीआई की कोलकाता पुलिस से भिड़ंत हो गई थी. जिसके बाद राज्य पुलिस ने सीबीआई के कुछ अधिकारियों को हिरासत में ले लिया था. जिसके चलते केंद्र और ममता सरकार के बीच टकराव की स्थित उत्पन हो गई थी.

Input your search keywords and press Enter.