fbpx
Now Reading:
अमेठी में कांग्रेस को बड़ा झटका, संजय सिंह ने पार्टी से किया किनारा, राज्यसभा सदस्यता भी छोड़ी
Full Article 2 minutes read

अमेठी में कांग्रेस को बड़ा झटका, संजय सिंह ने पार्टी से किया किनारा, राज्यसभा सदस्यता भी छोड़ी

कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने पार्टी और राज्यसभा से इस्तीफा दे दिया है. गांधी परिवार के सबसे करीबी माने जाने वाले संजय सिंह राज्यसभा सदस्य भी थे. उनका इस्तीफा कांग्रेस पार्टी के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है.

अमेठी राजघराने के महाराजा और कांग्रेस के कद्दावर नेता संजय सिंह की पहली पत्नी गरिमा सिंह अमेठी से बीजेपी विधायक हैं. गौरतलब है कि अमेठी राज परिवार का नेहरू गांधी परिवार से बेहत करीबी रिश्ता रहा है. बताया जाता है कि राजा माधव बख्श सिंह ने ही मोतीलाल नेहरू को आनन्द भवन बनवाने की सलाह दी थी.

जब साल 1926 में जवाहरलाल नेहरू ने फैजाबाद-मछली शहर संयुक्त सीट से चुनाव लड़ा था. तब उनका राजनीतिक केन्द्र अमेठी रियासत ही था. नेहरू के बाद संजय गांधी फिर राजीव गांधी ने अमेठी को राजनीतिक कर्म भूमि बनाया। उस वक्त भी गांधी परिवार से संजय सिंह के बेहद करीबी रिश्ते थे. साल 1989 में जब अमेठी राज घराने और गांधी परिवार के रिश्तों में दरार पड़ी तो संजय सिंह सोनिया गांधी के खिलाफ चुनाव साल 1999 में चुनाव लड़े.

लेकिन साल 2004 में संजय सिंह फिर कांग्रेस में वापस आ गए. कहा तो यह भी जाता है कि जब देश में जब रियासतों के विलय का अभियान चला था तब नेहरू जी ने रणंजय सिंह को मंत्री बनने का प्रस्ताव दिया था पर उन्होंने नकार दिया था.

Input your search keywords and press Enter.