fbpx
Now Reading:
गुजरात में दलित बच्चों को पहले कुत्तों के पिंजरे में डाला फिर करंट लगाया फिर बेरहमी से की पिटाई
Full Article 2 minutes read

गुजरात में दलित बच्चों को पहले कुत्तों के पिंजरे में डाला फिर करंट लगाया फिर बेरहमी से की पिटाई

गुजरात में दलित के उत्पीड़न के मामले फिलहाल रुकने का नाम नहीं ले रहे है। गुजरात में यह पहला मामला नहीं है। जब किसी दलित के साथ अमानवीय तरीके से उसके साथ मारपीट की गई हो। तमाम दावों के बाद भी सरकार इनके खिलाफ कोई कठोर कार्यवाही नहीं कर रही है और न ही कोई कानून बना रही है। ताज़ा मामला पोरबंदर का है यहाँ दलित बच्चों को जानवरों की तरह पीटने का वीडियो सामने आया है। पोरबंदर के कुछड़ी गांव में चोरी की शक के आधार पर दो दलित किशोरों को बेरहमी से पीटा गया।

Related Post:  मुंबई : गणपति पंडाल में डांस को लेकर हुआ विवाद, युवक ने गवाई जान

इंसानियत तब शर्मशार हो गई जब दोनों बच्चों को कुत्ते के पिंजरे में डालकर मारा और करंट देने की धमकी दी। बच्चों की पिटाई का वीडियो किसी ने बना लिया और वायरल कर दिया। इस मामले को लेकर पुलिस में तीन लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज हुई है।

वीडियो में दिखाई दे रहा है कि दो नाबालिग बच्चों को डंडो से पीटा जा रहा है। दोनों बच्चे बार-बार माफी मांग रहे है और छोड़ने की विनती कर रहे हैं लेकिन, पीटने वाले को उनपर कोई रहम नहीं आ रहा है।

Related Post:  दलित नाबालिग लड़की का गैंगरेप, शिकायत करने पहुंचे पिता को थाने में पुलिस ने पीटा

इसके बावजूद जब आरोपी का मन पीटाई से नहीं भरा तो उसने दोनों बच्चों को कुत्ते वाले पिंजरे में बंद कर दिया और पिंजरे के अंदर दोनों को मारा। फिर भी संतुष्ट नहीं होने पर बच्चों को बाहर निकालकर पीटना शुरू कर दिया।

मामले को लेकर एक किशोर के पिता द्वारा पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई गई है। जिसमें आरोपी के तौर पर इसी गांव के परबत कुछड़िया, वेजा कुछड़िया समेत लीला केशवाला का नाम लिखाया गया है।

Related Post:  जम्मू कश्मीर: पाक रेंजरों ने सांबा, कठुआ के पास की गोलीबारी, सेना ने दिया मुंहतोड़ जवाब 

दलित होने के बावजूद आरोपियों द्वारा न सिर्फ बेरहमी से पिटाई बल्कि घटना का वीडियो वायरल करने का भी आरोप लगाया गया है। फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच में जुटी है।

Input your search keywords and press Enter.