fbpx
Now Reading:
मुंबई पुलिस की गिरफ्त में दाऊद का फाइनेंशल मैनेजर अहमद रज़ा, उगलेगा डॉन के हवाला कारोबार का राज़

मुंबई पुलिस की गिरफ्त में दाऊद का फाइनेंशल मैनेजर अहमद रज़ा, उगलेगा डॉन के हवाला कारोबार का राज़

देश की सुरक्षा एजंसियों को बड़ी कामयाबी हाँथ लगी है। अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहीम के गुर्गे और उसका हवाला ऑपरेटर अहमद रज़ा को भारत लाने में सुरक्षा एजेंसियों सफलता हासिल हुई है। रज़ा ही दाऊद का हवाला कारोबार संभालता था और उसे डी कंपनी का फाइनेंशल मैनेजर भी कहा जाता है। पुलिस न छोटा शकील के खास अफरोज वाड्रिया उर्फ अहमद रजा को मुंबई एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया है और वो मुंबई क्राइम ब्रांच के एंटी एक्सटॉर्शन सेल के पास है। रज़ा की गिरफ़्तारी के बाद दाऊद से जुड़े कई राज खुलने की उम्मीद जताई जा रही है।

मुंबई क्राइम ब्रांच की मानें तो अफरोज वाड्रिया छोटा शकील का बेहद करीबी सहयोगी था। और पकिस्तान में बैठे फहीम मचमच के संपर्क में था। फहीम मचमच ही दाऊद के हवाला कारोबार को संभालता है और उसका सबसे करीबी माना जाता है। मुंबई पुलिस ने उसे गिरफ्तार करने के लिए पहले से लुक आउट सर्कुलर नोटिस जारी किया गया था। इसी नोटिस के आधार पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया है।

सूत्रों की मानें तो अफ़रोज़ दुबई और खाड़ी देशों में छुपकर रह रहा था। मंगलवार को वह जैसे ही वह मुंबई पहुंचा उसे हवाई अड्डे पर ही गिरफ्तार कर लिया गया और मुंबई पुलिस को सौंप दिया गया। मामले की तफ्तीश कर रही क्राइम ब्रांच के मुताबिक अफ़रोज़ मुंबई और सूरत में काफी सक्रिय था और सूरत के बड़े-बड़े कारोबारियों से उगाही का काम करता था।

वहीं दूसरी तरफ सुरक्षा एजंसियां दाऊद के एक औऱ गुर्गे जाबिर सिद्दीकी को भारत लाने की जद्दोजहद में जुटी हुईं हैं। भारत सराकर अमेरिकी प्रवर्तन एजेंसियों के साथ इसके लिए लगातार संपर्क में है। जाबिर सिद्दीकी अभी दक्षिण-पश्चिम लंदन के वैंड्सवर्थ जेल में बंद है। उसे जबरन वसूली,ड्रग तस्करी और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों में प्रतार्पित किया जा सकता है। इस मामले में आगामी 22 जुलाई को सुनवाई होनी है। जो दाउद के खिलाफ अहम सबूत साबित हो सकता है जिसमें अफगानिस्तान से ऑपरेट रहा उसका ड्रग्स का कारोबार भी शामिल है।

बताया जाता है कि पाकिस्तानी नागरिक सिद्दीकी, दाऊद का काफी करीबी है जो शेल कंपनियों के जरिए डी-कंपनी के पैसों को पाकिस्तान, पश्चिम एशिया,अफ्रीका और यूरोपियन देशों की कंपनियों में निवेश करवाता है।उम्मीद जताई जा रही है कि सिद्दीकी अफगानिस्तान से चलने वाले दाऊद के ड्रग्स व्यापार से जुड़े अहम सबूत दे सकता है। गौरतलब है कि 17 अगस्त 2018 को स्कॉटलैंड यार्ड ने अमेरिकी प्रवर्तन एजेंसियों से मिली जानकारी के आधार पर गिरफ्तार किया था।

Input your search keywords and press Enter.