fbpx
Now Reading:
बेटे ने ही बाप की हत्या कर शव के चार टुकड़े किए फिर निकल गया ठिकाने लगाने, लेकिन दरवाज़े पर खड़ी थी

बेटे ने ही बाप की हत्या कर शव के चार टुकड़े किए फिर निकल गया ठिकाने लगाने, लेकिन दरवाज़े पर खड़ी थी

नई दिल्ली: दिल्ली के शाहदरा इलाके में एक बेटे ने खून के सारे रिश्तो को तार तार कर डाला। जिस बाप ने ऊँगली पकड़ कर अपने बेटे को चलना सिखाया था, उसी बेटे ने लालच में अंधा  होकर अपने ही पिता की संपत्ति के लिए हत्या कर दी। बेटे ने अपने ही पिता को दर्दनाक मौत दी। पहले उनकी हत्या चाकुओं से गोदकर बेरहमी से हत्या कर की फिर शव के टुकड़े कर उसे 4 अलग-अलग बैग में भरकर ले जा रहा था। लेकिन घर से महज़ कुछ किलोमीटर दूर उसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

वारदात दिल्ली के शाहदरा फर्श बाजार थाना इलाके का है। गिरफ्त में आए बेटे के पास से पुलिस की टीम ने चार काले बैग भी बरामद किए हैं। उन्हीं बैगों में उसने उसके पिता के शव के टुकड़े भरे थे।

Related Post:  वीरेंद्र सहवाग की पत्नी बिजनेस पार्टनर के ठगी का हुई शिकार, 4.5 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी

शाहदरा की डीसीपी मेघना यादव ने बताया कि आरोपी , बेटे अमन ने पुलिस को बताया कि उसने पिता संदेश कुमार की हत्या कर दी और अब शव ठिकाने लगाने जा रहा था। पुलिस के मुताबिक बेटा अमन पिता की दुकान हड़पना चाहता था और साइबर नेट का काम खोलना चाहता था, पिता ने अपनी आजीविका के लिए दुकान में कॉस्मेटिक की दुकान खोली हुई थी। मृतक के भाई-बहन का कहना है कि बेटे ने एक महीने पहले जान से मारने की धमकी दी थी।

Related Post:  दिल्ली के बेख़ौफ़ अपराधी - मंडी हाउस के पास बीजेपी नेता विजेंद्र गुप्ता की पत्नी की कार से सामान लूट भागे अपराधी

आरोपी अमन के चाचा ने बताया कि, उनके भाई संदेश कुमार के परिवार में उसकी पत्नी उसके 2 बेटे और एक बेटी है। उनका आरोप है कि इस हत्या में उनके भाई कि पत्नी, नेति हुए दूसरा बेटा भी शामिल है। इसी लिए प्लान के मुताबिक पहले तो पत्नी, एक बेटा और बेटी घूमने के बहाने घर से बाहर चले जाते हैं ताकि बड़ा बेटा इस पूरी वारदात को अंजाम दे सके। शक है कि इस वारदात को को सोमवार रात ही अंजाम दे दिया गया है क्योंकि मंगलवार को वो कहीं नजर नहीं आए। बेटे की संदिग्ध गतिविधियों के चलते उन्हें उनके बेटे अमन पर शक हुआ।

Related Post:  दिल्ली पुलिस के जवान को भीड़ पर करनी पड़ी फ़ाइरिंग- अवैध शराब की जांच करने गए पुलिस वाले पर शराब माफ़िया के लोगों ने किया था हमला ल,एक व्यक्ति गिरफ्तार

अमन ने शव को ठिकाने लगाने के लिए अपने चार दोस्तों को एक गाड़ी लेकर बुलाया था। वो बस गाडी में शव के टुकड़े डालकर निकलने वाला ही था कि परिवार के दूसरे लोग वहां पहुँच गए। चाचा और दूसरे रिश्तेदारों ने गाडी को घेरकर पुलिस को खबर दे दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने जब काले बैग्स खोले तो सारा मामला सामने आ गया।

Input your search keywords and press Enter.