fbpx
Now Reading:
फडणवीस मंत्रिमंडल में दलबदलू नेताओं के प्राथमिकता से नाराज मंत्रियों ने दिया इस्तीफा

फडणवीस मंत्रिमंडल में दलबदलू नेताओं के प्राथमिकता से नाराज मंत्रियों ने दिया इस्तीफा

महाराष्ट्र की देवेंद्र फडणवीस मंत्रिमंडल में रविवार को कैबिनेट का विस्तार हुआ। आठ कैबिनेट और पांच राज्य मंत्रियों ने पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। पूर्व कांग्रेस नेता राधाकृष्ण विखे पाटिल ने रविवार को मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व वाली कैबिनेट के मंत्री के रूप में शपथ ली। विखे पाटिल राज्य विधानसभा में नेता विपक्ष थे और उन्होंने हाल में कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया था। उनके पुत्र सुजय विखे पाटिल राज्य की अहमदनगर लोकसभा सीट से भाजपा सांसद हैं।

इस बीच, मुख्यमंत्री कार्यालय के एक अधिकारी ने बताया कि महाराष्ट्र के आवास मंत्री प्रकाश मेहता और पांच अन्य राज्य मंत्रियों ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। मेहता के अतिरिक्त, इस्तीफा देने वाले अन्य मंत्रियों में राजकुमार बडोले, विष्णु सावरा, दिलीप कांबले, प्रवीण पोटे और अमरीश आत्राम शामिल हैं। अधिकारी ने बताया कि मुख्यमंत्री ने उनके इस्तीफे स्वीकार कर लिए हैं। कैबिनेट का विस्तार राज्य विधानसभा का मानसून सत्र शुरू होने से एक दिन पहले और विधानसभा चुनाव से चार महीने पहले हुआ है।

राज्य में चार महीने बाद विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और गृहमंत्री अमित शाह इस विस्तार को अपनी सहमति पहले ही दे चुके हैं। फडणवीस ने रविवार को दिल्ली में शाह से मुलाकात की थी। मंत्रिमंडल विस्तार से पहले एक वरिष्ठ कैबिनेट सदस्य ने कहा था कि 13 नए कैबिनेट मंत्रियों को शामिल किया जा सकता है और आठ पुराने मंत्रियों को हटाया जा सकता है। आवास मंत्री प्रकाश मेहता का पहले से ही इस्तीफा देने का अंदेशा था।

Related Post:  संसद में 'कांग्रेस अध्यक्ष ' की गैरहाजिरी पर उठे सवाल, सांसदों ने पूछा आखिर कहा हैं राहुल गांधी?

दरअसल, लोकायुक्त ने हाल ही में मेहता की तारदो एमपी मिल कपाउंड स्लम पुनर्विकास मामले में आलोचना की थी। उनपर आरोप है कि उन्होंने कथित तौर पर एक डेवलपर को फायदा पहुंचाने के लिए निर्णय लिए थे। कैबिनेट सदस्य ने कहा था, ‘भाजपा आलाकमान के साथ विचार-विमर्श के बाद नए चेहरे तय किए गए हैं। दलबदलू नेताओं को प्राथमिकता दी गई है।’

Input your search keywords and press Enter.