fbpx
Now Reading:
लखनऊ : चलती कार में 4 लोगों ने बीए थर्ड ईयर की छात्रा से कार में किया गैंगरेप, सड़क पर फेंककर हुए फरार
Full Article 3 minutes read

लखनऊ : चलती कार में 4 लोगों ने बीए थर्ड ईयर की छात्रा से कार में किया गैंगरेप, सड़क पर फेंककर हुए फरार

उत्तर प्रदेश में अपराध को ख़त्म कर  देने का दावा करने वाले योगी आदित्यनाथ के लखनऊ से शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है।लखनऊ में चलती कार में एक रिटायर पुलिस वाले की बेटी से गैंगरेप का मामला सामने आया है।लखनऊ शहर के मलिहाबाद इलाके की रहने वाली  पीड़िता बीए थर्ड ईयर की छात्रा है। उसका आरोप है कि  उसके गांव के ही चार लोगों ने उसको अगवा कर उसके साथ गैंगरेप किया है।

22 वर्षीय पीड़िता के बेसुध होने पर उसे चलती कार से तेलीबाग इलाके में फेंककर आरोपी फरार हो गए। युवती ने अपने गांव के कुछ लोगो के खिलाफ  विभूति खंड पुलिस थाने में मुकदमा दर्ज करवाया है। पीड़िता का कहना है कि उसे बिजली विभाग में नौकरी देने का झांसा देकर बुलाया गया था।

पीड़िता ने पुलिस को दिए अपने बयान में बताया कि, उसकी काशी प्रसाद नाम के एक व्यक्ति से मुलाकात हुई थी। इसके बाद काशी ने उसे अपने तीन साथियों से मिलवाया और बिजली विभाग में नौकरी दिलवाने के लिए 50 हजार रुपये मांगे। युवती की कहना है कि उसने 50 हजार रुपये काशी के साथियों को दे दिए। इसके बाद  काशी ने गुरुवार को बिजली विभाग में नौकरी दिलाने का झांसा दिया और उसे विभूतिखंड की न्यू हाईकोर्ट रोड पर आने को कहा। इसके बाद वह हाईकोर्ट रोड स्थित बिल्डिंग के पास पहुंची।

युवती का आरोप है कि किसी बात को लेकर उसकी काशी के दोस्तों से कहासुनी हो गई और उसने वापस पैसे मांगे। पीड़िता का कहना है कि आरोपियों ने उसे  देह व्यापार का ताना दिया, जिसका विरोध करने पर आरोपियों ने उसे जबरन कार में खींच लिया। इसके बाद सभी ने बारी-बारी उसके साथ दुष्कर्म किया और अप्राकृतिक यौन संबंध भी बनाए। युवती ने बताया कि आरोपी दो घंटे तक उसे कार में पूरे शहर में घुमाते रहे और बेहोश होने पर तेलीबाग इलाके में फेंककर फरार हो गए।

जब उसे होश आया तो उसने अपने परिजनों को फोन पर मामले की जानकारी दी। इसके बाद पुलिस को इसकी सूचना दी गई। पीड़िता के परिवार की तहरीर पर पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल करवाया। शुरुआती जांच में पीड़िता के शरीर पर खरोंच के निशान भी मिले हैं। फिलहाल पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर केस दर्जकर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

Input your search keywords and press Enter.