fbpx
Now Reading:
3 घंटे जलती रही लड़की, पुल‍िस करती रही अफसर का इंतजार, घरवालों को भी बचाने से रोका
Full Article 2 minutes read

3 घंटे जलती रही लड़की, पुल‍िस करती रही अफसर का इंतजार, घरवालों को भी बचाने से रोका

मंदसौर: मध्यप्रदेश पुलिस की शर्मनाक घटना सुनने के बाद आपकी रुह कांप उठेगी. 22 साल की लड़की ने केरोस‍िन डालकर खुद को आग के हवाले क‍िया तो पुल‍िस कुछ ही देर में पहुंच गई. पुल‍िस उसे बचाने की बजाय खुद बाहर बैठ गई और क‍िसी को भी अंदर नहीं जाने द‍िया. करीब तीन घंटे बाद एफएसएल की टीम आई तब लड़की की आग बुझाई गई.

पुल‍िस का इतना असंवेदनशील चेहरा मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले में देखने को म‍िला. लड़की के जलने का वीड‍ियो जब सोशल मीड‍िया पर वायरल हुआ तब सारी हकीकत सामने आई. साफ देखा जा सकता है कि जब एफएसएल महिला अधिकारी चंदा आंजना मौके पर पहुंची तो पहले भाऊ गढ़ थाना प्रभारी आरसी गौड सामान्य बात करते नजर आ रहे हैं.

Related Post:  Aadhar card बनवाने गई थी लड़की, एक महीने तक होता रहा गैंगरेप

ये वीडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हुए हैं, जिनमें साफ दिख रहा है पुलिस ने ऐसी कोई कोशिश नहीं की, जिससे लड़की को आग से बचाया जा सके या उसे तुरंत अस्पताल ले जाया जा सके. 22 साल की मह‍िला की दो साल पहले ही शादी हुई थी और कुछ समय से वह अपने प‍िता के घर ही रह रही थी.

वीडियो वायरल होने के बाद अब हालात यह है कि कोई भी अधिकारी कैमरे के सामने बोलने को तैयार नहीं है. लड़की के प‍िता कोमल टेलर का कहना है क‍ि जैसे ही मुझे खबर मिली कि मेरी लड़की ने खुद पर घासलेट डालकर आग लगा ली है तो मैं दौड़कर घर आया, फिर पुलिस को बुलाया. पुलिस ने आकर खिड़की तोड़ी. थाना प्रभारी ने मुझे अंदर भी नहीं जाने दिया.

Related Post:  प्रेमी को थाने से छुड़ाने के लिए पुलिस से भिड़ गई नाबालिग लड़की, काटा हंगामा

पड़ोसी शैलेंद्र सोनी ने बताया कि मैं पड़ोस में ही रहता हूं. जैसे ही जानकारी लगी कि इनकी बेटी ने केरोसिन डालकर खुद को जला लिया है तो पुलिस को सूचना दी गई. पुलिस थोड़ी देर में आ गई. उन्होंने खिड़की तोड़ी. लेकिन आग बुझाने के लिए कुछ भी नहीं किया. ये पुलिस की बहुत बड़ी लापरवाही है. यदि समय पर लड़की को अस्पताल ले जाते तो शायद बचा भी पाते.

Input your search keywords and press Enter.