fbpx
Now Reading:
BREAKING NEWS: ग्रेटर नोएडा में सपा नेता की गोली मारकर हत्या, पुलिस को ‘भाई’ पर शक
Full Article 3 minutes read

BREAKING NEWS: ग्रेटर नोएडा में सपा नेता की गोली मारकर हत्या, पुलिस को ‘भाई’ पर शक

ग्रेटर नोएडा के थाना दादरी क्षेत्र के गढ़ी गांव में रहने वाले समाजवादी पार्टी (सपा) के एक नेता की शुक्रवार को हथियारबंद बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी।

एसपी ग्रामीण विनीत जायसवाल ने बताया कि समाजवादी पार्टी के दादरी विधानसभा अध्यक्ष रामटेक कटारिया(32 वर्ष) पर उनके गाँव में मोटरसाइकिल व कार में सवार होकर आए अज्ञात बदमाशों ने अंधाधुंध गोलियां चलाईं। गोली लगने से वह गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें गाजियाबाद के यशोदा अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां पर डॉक्टरों ने रामटेक कटारिया को मृत घोषित कर दिया।

गौतमबुद्ध नगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वैभव कृष्ण ने कहा कि प्रथमदृष्टया सपा नेता की हत्या उनके ही एक रिश्ते के भाई से आपसी रंजिश का नतीजा लगती है। एसपी ने बताया कि घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस मामले की जांच कर रही है।

बसपा नेता को घुसकर गोली मारी थी

बसपा के विधानसभा क्षेत्र प्रभारी व प्रॉपर्टी डीलर हाजी मोहम्मद एहसान और उनके भांजे शादाब की ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर हत्या कर दी गई। बदमाशों ने बसपा सांसद गिरीश चंद्र की जीत की मिठाई देने के बहाने कार्यालय में घुसकर सनसनीखेज वारदात को अंजाम दिया। इस दौरान उनके कार्यालय में मौजूद हाजी एहसान का परिचित बाल-बाल बच गया। पुलिस ने संपत्ति विवाद व रंजिश समेत कई बिंदुओं पर जांच शुरू कर दी है।.

बिजनौर शहर के मोहल्ला पठानपुरा निवासी हाजी मोहम्मद एहसान का कार्यालय मेरठ-पौड़ी हाईवे पर गुरुनानक कांप्लेक्स में है। हाजी एहसान नमाज पढ़कर कार्यालय पर भांजे शादाब के साथ थे। यहां दोनों ही कुरान शरीफ पढ़ रहे थे। हाजी एहसान के संबंधी डॉ. अनवर सोफे पर आराम कर रहे थे। दोपहर बाद करीब ढाई बजे दो बदमाश बसपा सांसद गिरीश चंद्र की जीत की मिठाई देने के बहाने कार्यालय में घुसे और ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी।

मिठाई के डिब्बे में पिस्टल लेकर आये थे तीन बदमाश

बसपा सांसद की जीत पर मिठाई के डिब्बे में पिस्टल लेकर तीन बदमाश आये थे। दोपहर करीब ढाई बजे हाजी मोहम्मद अहसान कार्यालय में सोफे पर बैठ कर कलाम पाक पढ़ रहे थे तभी मिठाई के डिब्बे लेकर दो लोग कार्यालय में घुसे। हाजी एहसान ने केवल इतना ही पूछा था कि क्या बात है भाई अगले ही पल कार्यालय पर आए दोनों लोगों ने मिठाई के डिब्बे से पिस्टल निकालकर हाजी एहसान और पास ही बैठे उनके भांजे शादाब और एक अन्य पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाई। हाजी एहसान और उनके भांजे शादाब की मौत हो गई तीसरा व्यक्ति गोली लगने से बाल-बाल बच गया।

Input your search keywords and press Enter.