fbpx
Now Reading:
बिहार में मॉब लिंचिंग का एक और मामला रंगदारी नहीं दी तो मुस्लिम मवेशी कारोबारी को पीट-पीटकर मार डाला
Full Article 2 minutes read

बिहार में मॉब लिंचिंग का एक और मामला रंगदारी नहीं दी तो मुस्लिम मवेशी कारोबारी को पीट-पीटकर मार डाला

बिहार के कटिहार जिला में कथित तौर पर रंगदारी देने से इनकार करने पर एक मवेशी कारोबारी के एक कर्मी की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई। कटिहार सदर अनुमंडल पुलिस अधिकारी अनिल कुमार ने मंगलवार (12 नवंबर) को बताया कि मृतक का नाम मोहम्मद जमाल (30) है। मामले में उन्होंने बताया कि हत्या के पीछे का कारण बिजनेस कंपटीशन हो सकता है। उन्होंने बिजनेस में कंपटीशन की आशंका व्यक्त करते हुए बताया कि मृतक के परिजन रंगदारी की मांग किए जाने की बात भी कर रहे हैं। अनिल ने बताया कि इस सिलसिले में सागर यादव और उनके तीन पुत्रों के खिलाफ मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी गई है।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि हत्या के विरोध में स्थानीय लोगों ने राष्ट्रीय राजमार्ग 31 कटिहार- गेड़ाबाड़ी मार्ग पर आगजनी करने के साथ करीब तीन घंटे तक जाम किए रखा। बता दें कि स्थानीय लोगों ने सड़क जाम कर मृतक मजदूर के परिजन को 25 लाख रूपए मुआवजा के तौर पर दिए जाने और अविलंब मामला दर्ज कर दोषियों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। यह घटना सोमवार (11 नवंबर)की देर शाम की है। अनिल ने बताया कि पुलिस और प्रशासन के प्रयास से मामला शांत हुआ। सड़क जाम खत्म होने के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेजा गया।

मुफस्सिल थाना क्षेत्र निवासी जमाल अपने भाई कमाल और एक अन्य व्यक्ति के साथ सोमवार की देर शाम 18 मवेशी को लेकर जा रहे थे तभी लाभा पुल के समीप सागर यादव और उनके तीन पुत्रों ने उन्हें घेर लिया। रंगदारी की मांग की जिससे इनकार करने पर उन्होंने लाठी, डंडे से उनकी बुरी तरह पिटाई करने के साथ उनके मवेशी को अपने कब्जे में ले लिया।

पुलिस ने बताया कि मृतक मोहम्मद जमाल के भाई कमाल एवं एक अन्य सहयोगी किसी प्रकार वहां से भाग निकले पर सागर यादव और उनके पुत्रों ने जमाल की पीट-पीटकर हत्या कर दी। अनिल ने बताया कि जमाल द्वारा ले जाए जा रहे 18 मवेशियों में से 13 को बरामद कर लिया गया है। इसके साथ फरार आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी भी की जा रही है।

Input your search keywords and press Enter.