fbpx
Now Reading:
सीआरपीएफ और मध्य प्रदेश पुलिस में हुई झड़प, सीआरपीएफ ने लगाया काम बांधा डालने का आरोप
Full Article 3 minutes read

सीआरपीएफ और मध्य प्रदेश पुलिस में हुई झड़प, सीआरपीएफ ने लगाया काम बांधा डालने का आरोप

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में सीआरपीएफ और मध्य प्रदेश पुलिस के बीच हुई झड़प का मामला सामने आया है. घटना उस वक्त हुई जब प्रवीण कक्कड़ के करीबी अश्विन शर्मा भोपाल के प्लेटिनम प्लाजा स्थित एक घर में इनकम टैक्स की टीम छापेमारी चल रही थी. सुरक्षा की दृष्टि से बिल्डिंग के बाहर सीआरपीएफ को तैनात किया गया था. लेकिन तभी वहां पहुंची मध्य प्रदेश पुलिस और सीआरपीएफ के बीच टकराव की स्थिति बन गई.

सीआरपीएफ ने जहां एमपी पुलिस पर गाली देने और काम में बाधा डालने का आरोप लगाया है, तो वहीं एमपी पुलिस ने सीआरपीएफ पर लोगों को परेशान करने का आरोप लगाया है.वैसे यह कोई पहला मामला नहीं है .जब छापे मारी के दौरान राज्य पुलिस और केंद्रीय एजेंसी के बीच टकराव की स्थिति बनी हो. इसके पहले भी कोलकाता में पश्चिम बंगाल पुलिस और सीबीआई के अधिकारीयों के बीच झड़प का मामला सामने आया था.

Related Post:  बीजेपी के तालाब से निकले कमलनाथ के नाम वाले दो कमल, अमित शाह ने फोन घुमाया

हालांकि भोपाल के एसपी सिटी भूपिंदर सिंह ने आरोपों को सिरे से ख़ारिज करते हुए कहा कि हमें आयकर विभाग की रेड से कोई लेना-देना नहीं है, यह एक आवासीय बिल्डिंग है,अंदर कुछ लोग बीमार हैं और उन्होंने ही स्थानीय एसएचओ को फोन करके मदद के लिए यहां बुलाया है. रेड से पहले सीआरपीएफ ने पूरी बिल्डिंग को बंद कर दिया था.’

जबकि सीआरपीएफ के अधिकारीयों का कहना था कि मध्य प्रदेश पुलिस हमें अपना काम नहीं करने दे रही है. पुलिस के अधिकारी हमें गालियां दे रहे हैं.जबकि हम सिर्फ अपने वरिष्ठ अधिकारियों के आदेश का पालन कर रहे हैं. ऐसे में जबतक कार्रवाई जारी है, इसलिए हम किसी को भी अंदर नहीं जाने दे रहे हैं. हम सिर्फ अपनी ड्यूटी कर रहे हैं.

Related Post:  चालान के लिए रोके जाने पर भड़का ये शख्स, पुलिस के सामने बाइक में लगाई आग

गौरतलब है कि आयकर विभाग ने बड़ी कार्रवाही करते हुए मध्य प्रदेश, गोवा और दिल्ली में करीब 50 जगहों पर छापेमारी की है. जिसमें मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के ओएसडी प्रवीण ककक्ड़ भी शामिल हैं.आयकर विभाग ने प्रवीण ककक्ड़ के इंदौर और भोपाल स्थित घर और दफ्तर में भी छापेमारी की. इसके अलावा कमलनाथ के एक और नजदीकी आरके मिगलानी के नई दिल्ली के ग्रीन पार्क स्थित घर पर भी छापेमारी की गई है.इसके साथ ही रतुल पुरी, अमीरा ग्रुप और मोजर बेर पर भी छापे मारे गए हैं. जानकारी के मुताबिक भोपाल में प्रतीक जोशी के घर से बड़ी मात्रा में नगदी भी बरामद हुई है.

Related Post:  खुले में शौच कर रहे दो बच्चों की पीट-पीटकर हत्या, आरोपी ने कहा- सपने में राक्षसों के संहार का आदेश मिला
Input your search keywords and press Enter.