fbpx
Now Reading:
मेजर गोगोई के खिलाफ कोर्ट मार्शल हुई प्रक्रिया पूरी, मिल सकती है ये सजा

मेजर गोगोई के खिलाफ कोर्ट मार्शल हुई प्रक्रिया पूरी, मिल सकती है ये सजा

53 राष्ट्रीय राइफल्स के मेजर लीतुल गोगोई के खिलाफ कोर्ट मार्शल की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है. सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा है कि श्रीनगर में स्थानीय महिला से दोस्ती रखने के मामले में उनका पद घटाया जा सकता है. गौरतलब है कि फ़रवरी महीने में मेजर गोगोई और उनके ड्राइवर के खिलाफ सबूत पूरे होने के बाद कोर्ट मार्शल की प्रक्रिया शुरू की गई. दोनों को निर्देश के बावजूद स्थानीय महिला के साथ दोस्ती रखने और सैन्य अभियान वाले इलाके में होने के बावजूद ड्यूटी से दूर रहने के लिए दोषी पाया गया.

दरअसल 23 मई 2018 में मेजर गोगोई को श्रीनगर के एक होटल में एक स्थानीय लड़की के साथ पकड़ा गया था. इस दौरान कमरा देने से इनकार करने पर होटल स्टाफ के साथ उनकी नोकझोक भी हुई थी.जिसके बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में लिया था. बाद में उन्हें उनकी यूनिट को सौंप दिया था.

53 राष्ट्रीय राइफल्स के मेजर गोगोई उस वक्त सुर्ख़ियों में आये थे जब 9 अप्रैल 2017 को सेंट्रल कश्मीर के बड़गाम में रहने वाले फारूक अहमद डार को सेना की जीप के बोनट पर बांधा था. जो उस दिन हो रहे उपचुनाव में अपना वोट डालने के बाद वह पड़ोस के गांव में अपने एक रिश्तेदार के यहां हुई एक मौत के बाद लौट रहा था. डार को करीब 6 घंटों तक उसे उस इलाके के कई गांवों में घुमाया गया था. जिसको लेकर ह्यूमन राईट्स सगठनों ने उनकी कड़ी आलोचना की थी. हालांकि लीतुल का कहना था कि पत्थरबाजों से बचने के लिए सेना का ऐसा करना जरूरी था. इसके बाद सरकार द्वारा मेजर को सम्मानित भी किया गया था.

Input your search keywords and press Enter.