fbpx
Now Reading:
कमलेश तिवारी मर्डर केस: दुबई में साजिश, सूरत के शूटर, यूपी में हत्या, 3 लोग गिरफ्तार
Full Article 3 minutes read

कमलेश तिवारी मर्डर केस: दुबई में साजिश, सूरत के शूटर, यूपी में हत्या, 3 लोग गिरफ्तार

kamlesh tiwari murder case

हिन्दू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी मर्डर केस में एक बड़ी जानकारी सामने आ रही है. गुजरात ATS ने इस मामले में देर रात सूरत से 3 लोगों को हिरासत में लिया है. इन लोगों से पूछताछ की जा रही है.अब तक की जानकारी के मुताबिक इस मर्डर केस में पांच लोग शामिल थे. इन्हें गुजरात एटीएस ने सूरत से रात को हिरासत में लिया और अहमदाबाद ले आई है.

जानकारी के मुताबिक हत्या की साजिश दुबई में रची गई थी, जबकि पिस्टल सूरत से खरीदी गई थी और इस हत्याकांड में कुल 5 लोग शामिल हैं. सूत्रों के मुताबिक सीसीटीवी फुटेज, हत्या के वक्त इस्तेमाल किया गया मोबाइल नेटवर्क और सूरत के मोबाइल नेटवर्क को खंगाला जा रहा है ताकि और सुराग इकट्ठा किया जा सके.

Related Post:  झांसी में पुलिस ने किया फेक एनकाउंटर ? समाजवादी पार्टी ने लगाया आरोप

इसके अलावा अहमदाबाद, भरुच और सूरत से कुछ अन्य लोगों को भी हिरासत में लिया गया है, इन के साथ पूछताछ जारी है. कमलेश तिवारी हत्याकांड में बड़ा खुलासा हुआ है. कमलेश तिवारी हत्याकांड को अंजाम देने वाले दो लोगों के नाम का खुलासा हो गया है. इसमें से एक शख्स का नाम फरीदुद्दीन पठान उर्फ मुईनुद्दीन शेख है. जबकि दूसरे शख्स का नाम अशफाक शेख है.

हत्या के सीसीटीवी फुटेज में जो दो लोग दिख रहे हैं ये वही हैं. इन्हीं ने सूरत में मिठाई और चाकू खरीदी थी और हत्या को अंजाम देने के लिए यूपी गए थे. गुजरात ATS इस मामले में जिन तीन लोगों को गिरफ्तार किया है उनके नाम है शमी पठान, फैजान पठान और मोहसिन शेख. मोहसिन शेख पेशे से मौलवी है.

Related Post:  ग्रेटर नोएडा : बीजेपी कार्यकर्ता को गोली मारकर बदमाश फरार, तलाश में जुटी पुलिस

गुजरात के सूरत के एक दुकान से मिठाई खरीद रहे संदिग्धों की तस्वीर सामने आई है. इस तस्वीर में दुकान के काउंटर पर दो युवक एक साथ दिख रहे हैं.एक युवक ने नीली रंग की शर्ट पहन रखी है, तो दूसरे युवक ने ग्रे कलर की टी शर्ट पहन रखी है. इस मामले में लखनऊ से जानकारी है कि यूपी पुलिस ने गुजरात एटीएस के साथ खुफिया जानकारियां शेयर की है.

गुजरात एटीएस के साथ यूपी पुलिस संपर्क में है. यहा से सभी इनपुट शेयर किए गए हैं. सूत्रों के मुताबिक पुलिस इसमें स्थानीय लोगों का भी इंवॉल्वमेंट देख रही है, घटनास्थल के नजदीक मिले CCTV तस्वीरों में दो पुरुष और एक महिला दिख रहे हैं. रिपोर्ट के मुताबिक हो सकता है कि हमलावरों को कमलेश तिवारी के घर तक ले जाने और अपराध अंजाम देने के बाद उन्हें भागने में मदद करने में स्थानीय लोगों की मदद ली गई हो.

Related Post:  यूपी के मुजफ्फरनगर में हॉरर किलिंग, लव मैरिज से नाराज भाई ने बहन को उतारा मौत के घाट
Input your search keywords and press Enter.