fbpx
Now Reading:
काशी पत्रकार संघ ने PM मोदी को लिखी चिठ्ठी, पराडकर स्मृति भवन को जमींदोज ना करने की मांग
Full Article 2 minutes read

काशी पत्रकार संघ ने PM मोदी को लिखी चिठ्ठी, पराडकर स्मृति भवन को जमींदोज ना करने की मांग

काशी के पत्रकारों के लिए यह घड़ी किसी संकट से कम नहीं है, क्योंकि काशी में स्थित पराड़कर स्मृति भवन सरकारी योजनाओं के चलते जमींदोज होने वाला है. जिसके खिलाफ काशी पत्रकार संघ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखी है और इस ऐतिहासिक स्थल को बचाने की मांग की गई है.
  • काशी पत्रकार संघ ने PM नरेंद्र मोदी को लिखी चिठ्ठी
  • पराडकर स्मृति भवन को जमींदोज ना करने की मांग
  • काशी बनारस के पत्रकारों के साथ अन्याय का आरोप
  • पराडकर स्मृति भवन को सांस्कृतिक धरोहर बनाने की मांग 

 

धर्म नगरी काशी में पराड़कर स्मृति भवन कई दिग्गज पत्रकारों का केंद्र रहा. आज भी बड़ी संख्या में वहां पत्रकारों का जमावड़ा लगता है. जहां देश की राजनीति की दिशा और दशा पर चर्चा की जाती है. ऐसे ऐतिहासिक स्थल को सांस्कृतिक धरोहर बनाने की मांग भी लंबे समय से उठ रही है. चौथी दुनिया के प्रधान संपादक ने पत्रकारों की आवाज को अपने मंच पर बुलंद किया है.
लेकिन बावजूद उसके इस ऐतिहासिक स्थल को जमींदोज के जाने की कोशिश की खबर सामने आई है. जिसके खिलाफ काशी पत्रकार संघ के अध्यक्ष राजनाथ तिवारी, महामंत्री मनोज श्रीवास्तव, पूर्व अध्यक्ष प्रदीप कुमार और पूर्व अध्यक्ष योगेश गुप्ता ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर इस ऐतिहासिक स्थल को बचाने की मांग की है.
बता दें कि पराड़कर भवन का इतिहास काफी पुराना रहा है और यह आजादी के पहले से ही पत्रकारों के एकत्रित होने का साधन रहा है. यही कारण है कि पत्रकार संघ के लोग इस ऐतिहासिक स्थल का बचाव करना चाहते हैं. लेकिन लगातार इसको जमींदोज किए जाने की कोशिश से पत्रकार नाराज हैं और उन्होंने काशी के पत्रकारों के साथ अन्याय का आरोप लगाया है.
प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर इस ऐतिहासिक स्थल को बचाने की मांग के साथ ही पत्रकारों का यह भी कहना है कि इसे सांस्कृतिक धरोहर बनाया जाए. ताकि आने वाले भविष्य में लोग इस भवन को देखकर पत्रकारों के पुराने इतिहास के बारे में जानकारी हासिल कर सकें.
Input your search keywords and press Enter.