fbpx
Now Reading:
लालच में अंधा हुआ चाचा, अच्छी फसल के लिए दी मासूम की बलि
Full Article 2 minutes read

लालच में अंधा हुआ चाचा, अच्छी फसल के लिए दी मासूम की बलि

छत्तीसगढ़ के कोमना थाना क्षेत्र के जाड़ामुंडा गांव में एक दिन दहला देने वाला मामला सामने आया है. जहां अच्छी फसल के लिए एक सख्श ने अपने ही भतीजे की बलि चढ़ा दी. इस घटना से गांववाले सदमें में हैं.

मिली जानकारी के मुताबिक जाड़ामुंडा गांव में रहनेवाले चिंतामणी माझी और सगन माझी सगे भाई हैं.चिंतामणी माझी गांव में खेती का काम करता है जबकि उसका छोटा भाई आंध्रप्रदेश गया हुआ है. बीते शनिवार चिंतामणी अपने 13 साल के भतीजे को लेकर खेत गया हुआ था. तो वहीं तक़रीबन 11 बजे उसका 11 साल का छोटा भतीजा धनसिंह भी खाना लेकर खेत पहुंचा. इस दौरान चिंतामणि पेड़ की डाल काटने में मदद करने के बहाने धनसिंह को साथ ले गया और मौका पाते ही चिंतामणि ने धनसिंह पर गंडासे से इतने जोर से वार किया कि धनसिंह की मौके पर ही मौत हो गई.

Related Post:  VIDEO: जांबाज महिला की हिम्मत से पकड़ा गया झपटमार, स्नैचर से भिड़ीं मां-बेटी

वहीं जब चिंतामणि के बड़े भतीजे ने ताऊ के हाथ में खून से सना गंडासा देखा तो चीखने लगा. उसकी आवाज सुनकर खेतों में काम कर रहे लोग इक्कठा हो गए. घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंचे तरबोड़ पुलिस चौकी प्रभारी लच्छीधर ने चिंतामणि को गंडासे के साथ गिरफ्तार कर लिया. पुलिस की पूछताछ में आरोपी चिंतामणि ने अपना जुर्म कबूल करते हुए कहा कि उसकी फसल की पैदावार कम हो रही थी. ऐसे में उसे किसी ने कहा कि चिंतामणि उसके खेतों की पैदावार बढ़ जाएगी. जिसके चलते उसके अपने ही भतीजे की बलि चढ़ा दी.

Related Post:  पाकिस्तान में हुई हिंदू मेडिकल छात्रा की मौत की गुत्थी सुलझी, रिपोर्ट में हुआ ये खुलासा
Input your search keywords and press Enter.