fbpx
Now Reading:
शादीशुदा गर्लफ्रेंड की तस्वीर बिना डिलीट किये बेचा मोबाइल, हुई हत्या, आत्महत्या और मुठभेड़ जैसी वारदातें
Full Article 3 minutes read

शादीशुदा गर्लफ्रेंड की तस्वीर बिना डिलीट किये बेचा मोबाइल, हुई हत्या, आत्महत्या और मुठभेड़ जैसी वारदातें

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के मेरठ कंकरखेड़ा में खराब मोबाइल से वायरल हुई फोटो की वजह से एक साथ तीन लोगों की ज़िंदगियाँ बर्बाद कर दी। वायरल फोट की वजह से एक ने आत्महत्या कर ली तो दूसरे की हत्या हो गई। इस पहेली को सुलझाने बैठी पुलिस भी बड़ी उलझी हुई है। शादीशुदा गर्लफ्रेंड की तस्वीर बिना डिलीट किये बेचना कितनी बड़ी मुसीबत पैदा कर सकता है, यह मेरठ की इस घटना से पता चलता है। मेरठ के शुभम कुमार ने बिना चेक किए ही कुछ दिनों पहले अपना फोन अनुज प्रजापति नाम के शख्स को बेच दिया था। फोन में शुभम की शादीशुदा गर्लफ्रेंड के साथ कुछ आपत्तिजनक तस्वीरें सेव थीं।

ऐसे शुरू हुई खुनी कहानी
और यहीं से शुरू हुई एक खौफनाक कहानी की शुरुआत। अनुज प्रजापति ने शुभम से एक मोबाइल खरीदा था। जब मोबाइल ख़रीदा तो उसका स्क्रीन टूटा हुआ था, इस लिए कम दाम में मिला। अनुज मोबाइल में नई स्क्रीन डलवाई। अनुज को तभी मोबाइल में एक महिला और शुभम की के कुछ अश्लील फोटो मिले। जिसे उसने अपने दोस्त के पास भेज दिया। दोस्त ने उस फोटो को वायरल कर दिया फोटो महिला तक जा पहुंचा।

फोटो के वायरल होते ही महिला ने अनुज से संपर्क किया और सारी बात बताई। शुभम को लगा कि अनुज फोटो वायरल कर महिला को ब्लैकमेल कर अपना दोस्त बनाना चाहता है। इसी को लेकर महिला ने शुभम को उकसाया। तभी शुभम ने अपने पांच दोस्त और रिश्तेदारों को साथ लेकर हत्या की प्लानिंग की और अनुज की हत्या कर दी।

शुभम और उसके साथी अनुज को अपनी बाइक पर बैठाकर डिफेंस एन्क्लेव के पीछे सुंदरनगर ले गए। यहां खाली प्लॉट में सभी ने बियर पी। इसके बाद शुभम ने मारपीट करते हुए पिस्टल से सिर व सीने में गोली मारकर अनुज की हत्या कर दी। हत्या के बाद सभी मौके से भाग गए।

तब तक 35 साल की महिला ने मुजफ्फरनगर के गंगानहर कैनाल में शनिवार को अपने 5 साल के बेटे के साथ कूद गई। गोताखोरों ने बच्चे को तो बचा लिया लेकिन महिला की मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि महिला ने मरने से पहले अपने पति को एक फोन कॉल भी किया था।

सीसीटीवी फुटेज और मौके से बरामद मोबाइल की मदद से पुलिस ने आरोपियों की पहचान की है। पुलिस का कहना है कि शायद फोटोज के वायरल होने के अलावा अनुज की हत्या के मामले में नाम आने से परेशान होकर महिला ने आत्महत्या करने का फैसला किया।

पुलिस ने बताया कि प्रजापति की हत्या की जानकारी सीसीटीवी फुटेज के माध्यम से पुष्ट हो गई जिसके बाद आरोपी को पकड़ने के लिए टीम गठित कर दी गई। जब तक मेरठ पुलिस हत्यारे शुभम को पकड़ पाती तब तक सहारनपुर पुलिस ने आरोपी को एक एनकाउंटर मामले में गिरफ्तार कर लिया था आपको बता दें कि पकड़ा गया आरोपी गैंग्स्टर है।

Input your search keywords and press Enter.