fbpx
Now Reading:
हत्या या हादसा : उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता की कार का एक्सीडेंट, मां और चाची की मौके पर मौत
Full Article 3 minutes read

हत्या या हादसा : उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता की कार का एक्सीडेंट, मां और चाची की मौके पर मौत

बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली पीड़िता की कार दुर्घटनाग्रस्त होने से दो लोगों की मौत हो गई. जबकि दो गंभीर रूप से घायल हैं. हालाकिं पुलिस ने इस मामले में हत्या की साजिश और हादसा से इंकार नहीं किया है.

मिली जानकारी के मुताबिक पीड़िता अपने चाचा से मिलने रायबरेली जेल जा रही थी. इस दौरान उसके साथ गाड़ी में उसकी मां, चाची और वकील भी मौजूद थे. लेकिन जैस ही उनकी गाड़ी रायबरेली के गुरुबक्शगंज थाना क्षेत्र की अटौरा चौकी के अंतर्गत पड़ने वाले सुल्तानपुरखेड़ा मोड़ पर पहुंची एक ट्रक ने कार को टक्कर मार दी. टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि कार का अगला हिस्सा बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया. हादसे के बाद घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती करवाया जहां पुष्पा सिंह को मृत घोषित कर दिया. वहीँ घायलों में कार का ड्राईवर भी शामिल है. बताया जा रहा है किजिस ट्रक से कार की टक्कर हुई है उस ट्रक पर सिर्फ यूपी 71 लिखा हुआ नजर आ रहा है. बाकी नंबर प्लेट पर नंबर छुपाने के उद्देश्य से काला रंग लगाया गया है.

हादसे की जानकारी मिलते ही लखनऊ रेंज के आईजी ने मौके पर फोरेंसिक टीम रवाना कर दी. तो वहीं पुलिस का कहना है कि ट्रक ड्राइवर और मालिक पकड़ा गया है जो फतेहपुर का रहने वाले हैं. तो वहीं दूसरी तरफ
पीड़िता की बहन ने इस घटना के लिए विधायक को जिम्मेदार ठहराया है.

आपको बतादें कि पीड़िता ने आरोप लगाया था कि उन्नाव के बांगरमऊ से विधायक कुलदीप सेंगर ने उसके साथ 4 जून, 2017 को अपने आवास पर दुष्कर्म किया, जहां वह अपने एक रिश्तेदार के साथ नौकरी मांगने के लिए गई थी. जिसके बाद पुलिस ने आईपीसी की धारा 363, 366, 376, 506 और पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया था. बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर और उसका भाई अतुल सिंह साल 2018 से जेल में बंद हैं.

कुलदीप के खिलाफ उन्नाव के माखी थाने में भारतीय दंड संहिता की धारा 363, 366, 376, 506 और पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया था. शासन ने इस आदेश में इस पूरे मामले की जांच सीबीआई से कराने की अनुशंसा की थी, जिसे एजेंसी ने स्वीकार कर लिया था. कुलदीप उन्नाव के अलग-अलग विधानसभा सीटों से चार बार से लगातार विधायक हैं.

Input your search keywords and press Enter.