fbpx
Now Reading:
कुदरत का करिश्मा – मलबे से ज़िंदा निकाला गया मासूम, डोंगरी इलाके में एक चार मंज़िला ईमारत धाराशाही हो गई है

कुदरत का करिश्मा – मलबे से ज़िंदा निकाला गया मासूम, डोंगरी इलाके में एक चार मंज़िला ईमारत धाराशाही हो गई है

मुंबई के डोंगरी इलाके में एक चार मंज़िला इमारत ढहने के बाद लोग जहाँ ज़िन्दगी की उम्मीद छोड़ चुके थे, वहां एक मासूम ने मौत को मात दे दी। इमारत गिरने के बाद पसरे मातम के बीच एक बच्चा मलबे से जिंदा निकाला गया है। इस मासूम बच्चे को मलबे से निकालकर तुरंत अस्पताल पहुंचाया गया। हालांकि इस हादसे में मासूम के मां-बाप के बारे में अब तक कुछ भी पता नहीं चल पाया है। हालाँकि मौके पर अभी भी राहत और बचाव का काम जारी है।

Related Post:  शर्मसार हुई मुंबई: पॉश कफ परेड इलाके में 13 साल की बच्ची से गैंगरेप, तीनों आरोपी फरार

दरअसल मुंबई में मंगलवार दोपहर बड़ा हादसा हुआ। भीड़भाड़ वाले डोंगरी इलाके में चार मंजिला इमारत अचानक भरभरा कर गिर गई। बताया जा रहा है की इमारत में पंद्रह सोलह परिवार रहते थे, जिससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि  वहां चालीस से पचास लोगों के दबने की आशंका है। रास्ता सकरा होने की वजह से मौके पर पुलिस, राहत बचाव दल वहां पर पहुंचा है। मलबे में दबे लोगों को निकालने के लिए स्थानीय लोग भी मदद कर रहे हैं। इस बीच पुलिस ने मलबे में दबे एक छोटे से बच्चे को निकाला।

Related Post:  सैलाब में फंसी 700 जान बची, पूरा हुआ रेस्क्यू ऑपरेशन, अमित शाह ने की बचाव टीम की तारीफ़

उम्मीद की जा रही है कि बच्चा सकुशल होगा, हालांकि अभी उसकी क्या स्थिति है उसपर आधिकारिक बयान आना बाकी है। इस घटना के बारे में जब स्थानीय लोगों से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि ये बिल्डिंग करीब 100 साल पुरानी है, जिसमें 30-40 लोग दबे हो सकते हैं। जब बिल्डिंग गिरी तो ऐसा लगा कि मानो भूकंप आ गया है। स्थानीय निवासी के मुताबिक, यहां पर करीब 8-10 परिवार रहते हैं।

देखे वीडियो :-

Related Post:  मुंबई के नौ सेना डॉकयार्ड में निर्माणाधीन जहाज में लगी भीषण आग
कुदरत का करिश्मा – मलबे से ज़िंदा निकाला गया मासूम
Input your search keywords and press Enter.