fbpx
Now Reading:
मुंबई से दरभंगा जा रही पवन एक्सप्रेस की बोगी में लगी भीषण आग, बोगी में अफरा तफरी

मुंबई से दरभंगा जा रही पवन एक्सप्रेस की बोगी में लगी भीषण आग, बोगी में अफरा तफरी

पवन एक्सप्रेस बोगी आग

प्रयागराज: मुंबई के लोकमान्य तिलक टर्मिनल से दरभंगा जा रही पवन एक्सप्रेस में तब अफरा तफरी मच गई जब ट्रेन की स्लीपर कोच के नीचे ब्रेक बाइंडिंग में अचानक धमाके के साथ आग लग गई। आग लगते ही नई नीचे धुआं आने लगा जिसे देखकर यात्रियों ने तत्काल आनन-फानन में चेन पुलिंग कर ट्रेन को रोका।

इससे पहले की ट्रेन की रफ्तार कम होती डरे सहमे यात्रियों ने चलती ट्रेन से कूदना शुरू कर दिया। जान बचाने के इस अफरा तफरी में कई लोग घायल भी हो गए हैं। खबर लगते ही मौके पर पहुंचे रेलवे अधिकारियों व कर्मचारियों ने आग पर काबू पाया। इसमें कोई हताहत नहीं हुआ। करीब एक घंटे बाद स्थिति सामान्य होने पर ट्रेन रवाना की गई।

Related Post:  मुलायम का हाल पूछने पहुंचे सीएम योगी अदित्यानाथ, शिवपाल-अखिलेश भी रहे मौजूद

रेलवे ने जो जानकारी दी है उसके मुताबिक पवन एक्सप्रेस सोमवार को सुबह मुंबई से विहार के दरभंगा शहर जा रही थी। सुबह पवन एक्सप्रेस कटैयाडांडी रेलवे स्टेशन से प्रयागराज की तरफ आगे बढ़ी। तभी अचानक कटैयाडांडी व बरगढ़ रेलवे स्टेशन के बीच ट्रेन की एस-3 बोगी में ब्रेक शू के पास से धुआं उठता नजर आया। यह देखकर यात्रियों में अफरा-तफरी मच गई। यात्री दहशत में आ गए। कुछ ही देर में कोच के नीचे से आग लग गई।

Related Post:  मुंबई हादसा : महिला ने मौत को दी मात, मलबे से निकली जिन्दा 

लपटें उठती देख कर आनन-फानन में चेन पुलिंग कर यात्रियों ने ट्रेन रोकी। ट्रेन धीरे-धीरे बरगढ़ स्टेशन पर रुक गई। स्टेशन पर ट्रेन धीमी होने पर ही दहशत में आए यात्री कूदने लगे। रेलवे स्टेशन मास्टर और तकनीकी स्टाफ ने दौड़कर अग्निशमन यंत्रों के माध्यम से आग पर काबू पाया। इसके बाद ही यात्रियों ने राहत की सांस ली। स्टेशन मास्टर बरगढ़ अरुण कुमार तिवारी ने बताया कि जबलपुर में चेकिंग के बाद ट्रेन आगे बढ़ाई गई थी। आग लगने के पीछे प्रथम द्रष्टया ब्रेक बाइंडिंग होना है। ब्रेक शू में दिक्कत से ऐसी स्थिति बनी।

Related Post:  शह और मात के खेल में अखिलेश के पास है बाज़ीगर बनने का मौका, बुआ-बबुआ के गठबंधन में दरार 

सुपरफास्ट लोकमान्य तिलक टर्मिनल एक्सप्रेस हर जगह स्टेशनों में नहीं रूकती। लंबे रूट की ट्रेन होने के कारण यह दूर-दूर वाले बड़े स्टेशनों पर ही इसका ठहराव है। कोच में नीचे से आग लगने के बाद जब धुआं उठा तो अचानक यात्रियों की नजर पड़ी। आग लगती देख यात्रियों के एकबारगी होश गुम हो गए। यात्रियों ने किसी तरह से रेलवे प्रशासन को सूचना पहुंचाई। ट्रेन के चालक व गार्ड को भी इससे अवगत कराया गया। इसके बाद बड़े ही सूझबूझ के साथ यात्रियों ने चेकपुलिंग कर ट्रेन को रोका।

Input your search keywords and press Enter.